WhatsApp बनाने वाले जेन कभी लगाते थे झाड़ू, अब हैं 58 हजार करोड़ के मालिक

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
टीम पीपुल। वॉट्सएप के को-फाउंडर जेन कूम 16 साल की उम्र में शरणार्थी के रूप में यूक्रेन से अमेरिका पहुंचे थे। लेकिन 40 साल का होते-होते उन्होंने इतने पैसे कमा लिए कि उनकी दौलत उनके मूल देश यूक्रेन की जीडीपी का दस प्रतिशत हो गई। आज जेन कूम 58 हजार करोड़ रुपयों की दौलत के मालिक हैं, लेकिन कभी वे खाने के कूपन पर गुजारा करते थे। जानिए, कितने मुश्किल थे उनके वे दिन…
 
-जेन कूम का जन्म 24 फरवरी, 1976 को यूक्रेन के कीव शहर में हुआ था। यूक्रेन उन दिनों सोवियत संघ का हिस्सा था। वहां पीने के पानी और टॉयलेट जैसी सामान्य सुविधाएं भी अच्छी नहीं थीं।
- कूम जब 16 साल के थे, तभी अपनी मां के साथ अमेरिका आ गए। यहां उन्होंने सरकारी सहायता के रूप में मिलने वाले खाने के कूपन पर गुजारा किया। उनकी मां बेबीसिटिंग, यानी आया का काम करती थीं। कूम ग्रॉसरी स्टोर में झाड़ू-पोंछा करते थे। कूम की मां यूक्रेन से नोटबुक्स और पेन ले आई थीं। कूम की एजुकेशन में इनका इस्तेमाल हुआ।
 
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें कि कूम की जिंदगी में ड्रामेटिक चेंज कैसे आया…  
खबरें और भी हैं...