करोड़ों के मालिक कभी टॉकीज में बेचते थे चिप्स, करते थे होटल में काम

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
छोटी शुरुआत के साथ लंबी उड़ान भरने के इरादे से कई बिजनेसमेन ने खुद को साबित किया है। ऐसा ही एक ब्रांड है बालाजी नमकीन, जो गुजरात की गलियों से निकलकर चर्चित नमकीन ब्रांड बना गया है। चंदूभाई विरानी गुजरात के एक सफल बिजनेसमैन हैं, जिन्होंने कई विफलताओं के बाद भी हार नहीं मानी और आज वे 1500 करोड़ की कंपनी के मालिक हैं। अपने भाइयों के साथ शुरू किए गए बिजनेस में चंदूभाई आज एमडी हैं। 2 हजार की बस्ती वाले गांव धनु-धोराजी, कालावाड़ में जन्मे चंदूभाई के पिता किसान थे। बारिश नहीं होने पर सूख गया था खेत, खाने के पड़ गए लाले...
 
 
- किसान परिवार में जन्मे चंदूभाई चार भाइयों से एक हैं।
- खेत बेचकर पिता ने बेटों को 20 हजार रुपए दिए थे बिजनेस करने के लिए।
- खाद और खेती के साजो-सामान का बिजनेस किया, लेकिन अनुभव न होने के कारण फेल हो गए।
- किसी ने धोखे से नकली सामान बेच दिया था और बिजनेस में लगाया चारों भाइयों के रुपए डूब गए थे।
- राजकोट आकर भाइयों ने एक कॉलेज की मेस में काम किया। लेकिन वहां भी वे फेल हो गए।
 
 
आगे की स्लाइड्स में पढ़ें कैसे विरानी भाइयों ने खुद को सफलता हासिल की...
खबरें और भी हैं...