पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • हृदय स्कीम के तहत केंद्र सरकार करेगी शहर का विकास

हृदय स्कीम के तहत केंद्र सरकार करेगी शहर का विकास

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रीय ज्वाइंट सेक्रेटरी ने की नेताओं और अफसरों से बैठक

दीपकभंडारी | अमृतसर

केंद्रसरकार ने शहर की ऐतिहासिक और धार्मिक महत्ता को देखते हुए इसे नेशनल हेरिटेज सिटी डिवेलपमेंट एंड ऑगमेंटेशन (हृदय) के तहत डेवलप करने की प्लानिंग बनाई है।

इसके तहत शहर के विकास के लिए सारा पैसा केंद्र सरकार खर्च करेगी। शहर की जरूरतों को जानने के लिए केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय के ज्वाइंट सचिव प्रवीण प्रकाश ने भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष कमल शर्मा, कैबिनेट मंत्री अनिल जोशी, डा. नवजोत कौर सिद्धू, मेयर बख्शी राम अरोड़ा, नगर निगम के कमिश्नर प्रदीप सभ्रवाल से मुलाकात की। इससे पहले कि कोई कुछ कहता मेयर खुद ही बोल पड़े कि सैक्रेटरी साहिब यह बड़ी अच्छी बात है कि जेटली साहिब ने बजट में देश के जिन सात शहरों को हृदय के तहत विकास के लिए चुना है, उनमें अमृतसर भी शामिल है। लेकिन जब तक शहर से गंदगी और कचरे की समस्या का समाधान नहीं निकलता, तब तक इसे टूरिस्ट हब बनाया जाना असंभव है। मेयर बेझिझक बोले कि शहर की सीवरेज व्यवस्था ठीक नहीं है।

मेयर की बात सुनने के बाद ज्वाइंट सचिव बोले कि उन्हें शहर के विकास संबंधी तमाम प्रोजेक्टों की रिपोर्ट अगले 15 दिनों में कैबिनेट में पेश करनी हैं। संभव हुआ तो एक माह में सभी प्रोजेक्ट पास हो जाएंगे और इनका उद्घाटन करने के लिए अगले माह केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी आएंगे। सर्किट हाउस में अधिकारियों से बैठक करने के बाद निगम के कमिश्नर प्रदीप सभ्रवाल ने प्रवीण प्रकाश को भंडारी पुल की चौड़ाई, कैनाल बेस्ड वाटर प्रोजेक्ट, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट, हाल गेट से दरबार साहिब तक सभी इमारतों का एक जैसा फेस होने, कंपनी बाग में महाराजा रंजीत सिंह के समर पैलेस के रख रखाव, फोर एस चौक पर फ्लाई ओवर बनाने, रीगो ब्रिज आदि प्रोजेक्टों की साइटें दिखा कर इस संबंधी बनाई तमाम रिपोर्ट उनके हवाले कर दी गई है।

मेयर ने कहा कि इन सभी प्लानों की फाइलों को लेकर वह खुद भी फाइनांस मिनिस्टर अरुण जेटली के पास जाएंगे। संभव हुआ तो एक माह में सभी प्रोजेक्टों को मंजूरी मिल जाएगी और इनका उद्घाटन करने के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आएंगे।

प्रोजेक्ट को लेकर केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय के ज्वाइंट सेक्रेटरी प्रवीण प्रकाश से कमल शर्मा, मेयर बख्शी राम अरोड़ा, डाॅ. नवजोत कौर सिद्धू, निगम कमिश्