पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • बच्चों की प्रतिभा और विरासत से पंजाबी संस्कृति का जलवा

बच्चों की प्रतिभा और विरासत से पंजाबी संस्कृति का जलवा

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुगोबिंद सिंह जी के पवित्र चरण छू प्राप्त धरती जस्सी बागवाली के सरकारी एलिमेंटरी स्कूल में संगत ब्लाक का दो दिवसीय पहला बाल मेले का आगाज शुक्रवार से हुआ। उद्घाटन हलका विधायक दर्शन सिंह कोट फत्ता डीईओ सेकंडरी डॉ. अमरजीत कौर कोट फत्ता ने किया और यहां सजाई विभिन्न शैक्षणिक एवं विरासती स्टालों का अवलोकन किया। डीईओ एलिमेंटरी शिवपाल गोयल ने अतिथियों का अभिनंदन किया। बाल मेले में बाबा वधावा सिंह विद्या केंद्र पथराला के विद्यार्थियों ने रसमयी आवाज में शबदगान किया। मास्टर माइंड पब्लिक सीसे स्कूल बंगीरुघु के खालसाई विरासत में सजे विद्यार्थियों ने गतके के जौहर दिखाए। सरकारी एलिमेंटरी स्कूल जंगीराणा के राष्ट्रपति पुरस्कार विजेता विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट वितरित किए। बीपीईओ अमरजीत कौर ने आभार जताते बताया कि बाल मेले के पहले दिन संगत ब्लॉक के 50 सरकारी गैर सरकारी स्कूलों के बच्चों ने स्टेज पर गीत, कविताएं, भाषण, कविशरी, गिद्दा, भंगड़ा, कोरियोग्राफी, फैंसी ड्रैस, नाटक, भंड, गतका, शबद, ग्रुप डांस, स्किट, माइम आदि आइटम पेश कीं। इधर सुंदर लिखाई, चित्रकला, टीएलएम, मैथ कॉर्नर, आओ खेलें, कठ पुतली की खेल, प्रवेश की स्टाल लगाई गई। इस अवसर पर प्रवेश पंजाब स्टाल में बच्चों के प्रश्नोत्तरी मुकाबले कराए।

बाल मेले में गिद्धा पेश करती छात्राएं।