20 साल से निगम में टिके एसई कुलविंदर

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ईसी को कंप्लेंट

इलेक्शनकमिशन के पास नगर निगम के निगरान इंजीनियर (बीएंडआर) कुलविंदर सिंह की कंप्लेंट आई है। सुनील कुमार नामक शख्स ने दोपहर 3.13 बजे ये कंप्लेंट की है। इसमें कहा गया है कि कुलविंदर सिंह नगर निगम में 20 साल से काम कर रहे हैं। इसके सत्तारूढ़ पार्टी में गहरे संबंध हैं। वह अपने पद के प्रभाव का इस्तेमाल मौजूदा चुनाव में कर रहे हैं। फिलहाल ये कंप्लेंट पेंडिंग है। 31 तारीख को चुनाव अफसर इस पर सुनवाई करेंगे। वहीं, कुलविंदर ने दैनिक भास्कर के सवाल पर कहा, मुझे शिकायत संबंधी कोई जानकारी नहीं है। अगर किसी ने यह शिकायत की भी है तो यह गलत है। क्योंकि किसी के साथ भी पक्षपात नहीं किया जा रहा है। चुनाव अधिकारी कम डीसी केके यादव के आॅफिस में आॅनलाइन ये कंप्लेंट आई है।

लोकल बाॅडीज विभाग ने जून महीने में एसई कुलविंदर सिंह के तबादले के आॅर्डर दिए थे। लेकिन इन्हें इंप्लीमेंट नहीं किया गया था।

निगम ही नहीं बाकी विभागों में भी लंबे समय से तबादले नहीं हुए। ट्रांसपोर्ट विभाग के अफसर भी चुनाव के दौरान जालंधर के ही स्टेशन पर टिके हैं। पुलिस विभाग में भी तबादलों की मांग चुनाव आयोग के कंप्लेंट सेंटर पर आई थी।

एसई कुलविंदर सिंह

निगम हाउस में विपक्ष ने भी लगाया था आरोप| सुनीलकुमार किसी बड़े संगठन के मेंबर नहीं हैं। लेकिन इससे पहले निगम हाउस में भी कुलविंदर सिंह की अगुवाई वाली बीएंडआर ब्रांच में कामकाज में गड़बड़ी के आरोप लगे थे। नेता विपक्ष जगदीश राजा ने हाउस की मीटिंग में पैचवर्क में खर्चे पर सवाल उठाए थे। ये भी कहा था कि क्यों लंबे समय से अफसरों के तबादले नहीं हुए हैं। इसके बाद कुलविंदर सिंह का तबादला अमृतसर हुआ था। जबकि वहां से अफसर ने जालंधर अाना था। कुछ दिन तक आॅर्डर के बावजूद दोनों नगर निगमों में काम चलता रहा। बाद में कोई भी अफसर दूसरी जगह नहीं गया था। कुलविंदर सिंह की लंबी टेन्योर का सवाल अब चुनाव में दोबारा उठ गया है। वह पद का इस्तेमाल चुनाव में सत्तापक्ष में कर रहे हैं या नहीं, ये तो जांच के बाद ही साबित होगा।

चुनाव अफसर आज करेंगे सुनवाई

शिकायतकर्ता का आरोप- एसई कुलविंदर कर रहे सत्तापक्ष के लिए प्रभाव का इस्तेमाल

खबरें और भी हैं...