पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

‘गद्दारों को भाजपा से बाहर करो’

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर. ‘सिर मुंडवाते ही ओले पड़े’ भाजपा के अंदर शुरू हुई कलह कुछ इसी ओर इशारा कर रही है। पार्टी ने एक ओर सदस्यता अभियान शुरू कर रखा है, ताकि आधार और मजबूत किया जा सके, लेकिन नींव ही दरकती जा रही है। शनिवार को भाजपा के मंडल-8 व 9, वार्ड-41 और वार्ड-44 के कार्यकर्ता स्थानीय निकाय मंत्री भगत चूनी लाल के घर पहुंच गए। मांग कर डाली कि भीतरघात करने वाले गद्दारों को पार्टी से बाहर निकाला जाए। वार्ड-41 के पार्षद दर्शन लाल ने कहा कि पार्टी के कई पदाधिकारियों ने उन्हें हराने के लिए षड़यंत्र रचा था, इन्हें अब पार्टी से बाहर किया जाए। उन्होंने पांच लोगों के नाम भी जिला प्रधान और भगत चूनी लाल को दिए। वार्ड-44 के नेता राजिंदर थापर ने कहा कि वे कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए। पर यहां तो गद्दारों को ही अहमियत दी जा रही है। पार्टी के लिए काम करने वाले हाशिये पर हैं। ऐसे ही चलता रहा, तो वह समर्थकों के साथ भाजपा से भी विदा ले लेंगे। वार्ड-44 की हारी हुई पार्षद सुनंदा मल्होत्रा भी अपनी समर्थकों के साथ आईं। उन्होंने भी यही कहा कि गद्दारों को बाहर निकालो। आजाद प्रत्याशी के तौर पर उन्हें जितने वोट मिले थे, भाजपा की टिकट पर चुनाव लड़ने के बाद भी उतने नहीं मिल पाए। पार्टी के ही नेताओं ने उन्हें हराया है। पार्टी के वर्कर उनके पास अपनी शिकायत लेकर आए थे। उनकी बात सुन ली गई है। जिला प्रधान सुभाष सूद मौके पर ही थे। लोगों का कहना था कि पार्षदों की हार का कारण बने भाजपा के नेताओं पर कार्रवाई की जाए। जिसके लिए जिला प्रधान अपनी रिपोर्ट बनाकर प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा को भेज देंगे। वही इसका फैसला लेंगे। निर्धारित समय में उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। महिला मोर्चा भी अपनी शिकायत लेकर आई थी। उर्मिल वैद्य को अगर किसी प्रधान को हटाना है तो उन्हें पूरी प्रक्रिया को अपनाया जाए। इसलिए पुरानी कमेटी ही स्टैंड करेगी।-मोहिंदर भगत, प्रदेश उपाध्यक्ष, भाजपा पंजाब।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

और पढ़ें