}22. 28 करोड़ कैश दस्तावेज दिखाने पर किया रिलीज

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डेढ़ करोड़ की हेराेइन मिली, दो जगहों से 618 पेटी शराब, 96.94 लाख कैश जब्त

जालंधर बाईपास पर दो महिंदरा पिकअप गाड़ियों से रात 9 बजे पकड़ी गई शराब

चुनावोंको लेकर कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए की गई नाकाबंदी के दौरान पुलिस ने अलग-अलग नाकों के दौरान चार लोगों से 320 ग्राम हेरोइन बरामद की है। बरामद की गई हेरोइन का अंतरराष्ट्रीय मूल्य करीब डेढ़ करोड़ रुपए आंका जा रहा है। वहीं जालंधर बाईपास चौक में नाकाबंदी के दौरान थाना सलेम टाबरी की पुलिस ने दो बोलेरो गाड़ियों में से 468 पेटी देसी शराब बरामद की है। ड्राइवर शराब जालंधर से लुधियाना लेकर रहे थे। बरामद की गई शराब की कीमत 12 लाख रुपए के करीब बताई जा रही है। इसके अलावा मुल्लांपुर दाखा में दानामंडी में लगाए नाके पर महिंदरा गाड़ी से 150 पेटी शराब बरामद की गई है। वहीं दो अलग-अलग स्थानों पर पुलिस ने वाहनों की चेकिंग करते समय सात गाड़ियों से 23 करोड़ 24 लाख 94 हजार कैश बरामद किया है। इसमें पांच कंपनियों द्वारा 22.28 करोड़ रुपए के दस्तावेज पेश करने पर उन्हें छोड़ दिया गया। जबकि किट्टी ब्रैड कंपनी के 75 लाख और दादा मोटर्स कंपनी के 21.94 लाख रुपए जब्त कर लिए गए हैं।

नारकोटिक्स सेल के इंचार्ज सब इंस्पेक्टर हरबंस सिंह ने बताया कि उनकी पुलिस पार्टी ने राहों रोड पर वालिया पैलेस के निकट नाकाबंदी की हुई थी। पैदल रहे उक्त आरोपी ने पुलिस पार्टी को देख कर रास्ता बदल लिया और एक दम भाग निकला। पुलिस मुलाजिमों ने भी युवक के पीछे भाग कर उसे पकड़ लिया। पकड़ने के बाद आरोपी की तलाशी ली तो उसके पास से 300 ग्राम हेरोइन बरामद की गई। आरोपी मेहरबान की बाजीगर कॉलोनी का रहने वाला सन्नी पुत्र पृथ्वीचंद है। आरोपी के खिलाफ थाना मेहरबान में एनडीपीएस एक्ट के अधीन मामला दर्ज किया गया। जांच में पता चला कि आरोपी के खिलाफ आधा दर्जन से अधिक क्रिमिनल मामले दर्ज हैं। आरोपी के खिलाफ महिला कांस्टेबल को धमका कर मोबाइल छीनने के आरोप में भी मामला दर्ज है। आरोपी इस मामले में पिछले काफी समय से पुलिस को वॉन्टेड है। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि वह इलाके में स्थित सिगमा फैक्ट्री में सफाई सेवक का काम करता था। इसी की आड़ में आरोपी नशा तस्करी का काम करता था। आरोपी अमृतसर के बॉर्डर के इलाके से जस्सी नाम के व्यक्ति से थोक में हेरोइन खरीद कर लाता था। जिसे वह एक, दो पांच ग्राम की पुड़िया बना कर बेचता था। आरोपी निकटवर्ती इलाकों में जाकर नशा सप्लाई करता था।

आरोपी के खिलाफ अलग-अलग थानों में क्रिमिनल मामले दर्ज हैं। आरोपी खुद भी नशे का आदी है और नशों की पूर्ति के लिए ही नशा सप्लाई करता था। आरोपी मोबाइल पर ही नेट वर्क चलाता था। आरोपी के मोबाइल की डिटेल भी खंगाली जा रही है। वहीं, सीआईए-2 की पुलिस ने राम नगर टिब्बा रोड पर नाकाबंदी के दौरान दो युवकों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 10 ग्राम हेरोइन बरामद की हेै। आरोपी इंदरा पुरी का रहने वाला हरदीप कुमार न्यू रामेश नगर का रहने वाला अजय कुमार है। आरोपी के खिलाफ थाना बस्ती जोधेवाल में मामला दर्ज किया गया है। सब इंस्पेक्टर हरदीप सिंह ने बताया कि आरोपियों को उस समय गिरफ्तार किया गया, जब आरोपी नशे की सप्लाई करने जा रहे थे। थाना दुगरी की पुलिस ने बेरी कॉलोनी के रहने वाले हरदीप सिंह को नाकाबंदी के दौरान 10 ग्राम हेरोइन समेत गिरफ्तार किया है।

क्राइम रिपोर्टर/लुधियाना| चौकीमिलर गंज के इंचार्ज एएसआई कपिल कुमार की ओर से सोमवार को विश्वकर्मा चौक में नाकाबंदी की गई थी। चेकिंग के दौरान छह अलग-अलग गाड़ियों को रोका गया। जिसमें से दो बैंक की गाड़ियां थीं। लेकिन सभी वाहनों में सवार लोग मौके पर दस्तावेज पेश कर सके। जिस कारण उन्हें इनकम टैक्स के हवाले किया गया। पांच लोगों द्वारा दस्तावेज दिखाने पर उन्हें छोड़ा गया। जबकि दादा मोटर्स कंपनी की गाड़ी से बरामद हुए 21.94 लाख रुपए के दस्तावेज पेश होने पर उसे सील कर दिया गया। एएसआई कपिल कुमार ने बताया कि बैंक की वैनों में 20 करोड़ रुपए थे। वहीं, एक कार से 1.73 करोड़, दूसरी से 25 लाख, तीसरी से 30 लाख थे जिन्हें रिलीज कर दिया गया। दूसरे मामले में एसीपी कंवलप्रीत सिंह ने बताया कि शेरपुर चौकी के इंचार्ज एएसआई निर्भय सिंह की ओर से शेरपुर चौक में नाकाबंदी के दौरान एक महिंदरा गाड़ी को चेकिंग के लिए रोका गया। गाड़ी में दो युवक सवार थे। गाड़ी मंे से 75 लाख रुपए की करंसी बरामद हुई। दोनों युवकों की ओर से कोई कागजात दिखा पाने के कारण करंसी जब्त कर ली गई। उक्त करंसी किट्टी ब्रैड कंपनी की है।

लुधियाना|जालंधर बाईपासचौक में नाकाबंदी के दौरान थाना सलेम टाबरी पुलिस ने दो बोलेरो गाड़ियों से 468 पेटी देसी शराब बरामद की है। मामले की सूचना मिलने पर एक्साइज डिपार्टमेंट के इंस्पेक्टर करमजीत सिंह मौके पर पहुंच गए। ड्राइवर रायकोट का रहने वाला हरमनदीप सिंह और कांगड़ा का रेशम है। थाना सलेम टाबरी के एसएचओ मुहम्मद जमील ने बताया कि रात साढ़े 9 बजे के करीब जालंधर की तरफ से दो महिंदरा पिकअप गाड़ियां लुधियाना की तरफ रही थी। चेकिंग के दौरान गाड़ियों में 468 पेटी डॉलर रम देसी शराब की बरामद की। वहीं थाना दाखा की पुलिस ने रायकोट रोड पर स्थित अनाज मंडी के समक्ष लगाए नाके के दौरान लुधियाना की तरफ से रही महिंदरा जीप से 150 पेटी देसी शराब (डालर रम) बरामद की। पुलिस शराब से भरी जीप, उसके ड्राइवर बलदेव सिंह निवासी गालिब रणसिंह वाला और कारिंदे राजकुमार (सुधार) को अपने साथ थाने ले गई।

खबरें और भी हैं...