फसल की अदायगी 72 घंटों में होगी

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सिटी रिपोर्टर|श्री माछीवाड़ा साहिब

लुधियानाके डीसी प्रदीप अग्रवाल द्वारा माछीवाड़ा अनाज मंडी का दौरा कर खरीद प्रबंधों का जायजा लिया। इस मौके उन्होंने आढ़ती किसानों की समस्याओं को भी सुना। अनाज मंडी में पहुंचे डीसी अग्रवाल को आढ़तियों ने बताया कि उनका दो खरीद एजेंसियों की तरफ बकाया राशि खड़ी है। उन्होंने बताया कि पंजाब एग्रो की तरफ उनकी करीब एक लाख बोरी बारदाना बकाया है जबकि खरीद एजेंसी एफसीआई की तरफ करीब 30 लाख रुपये और मार्कफैड की तरफ करीब 7 लाख रुपये की बकाया राशि खड़ी है। उन्होंने बताया कि खरीद एजेंसियों के उच्चाधिकारियों के पास कई बार फरियाद करने के बावजूद इस समस्या का समाधान नहीं हुआ। जिस पर डीसी अग्रवाल ने उनकी समस्या के समाधान का आश्वासन दिया और मंगलवार को होने वाली बैठक में आढ़तियों का एक नुमाइंदा आने के लिए कहा। डिप्टी कमिश्नर प्रदीप अग्रवाल ने किसानों को अपील करते हुए कहा कि वह सूखा धान ही मंडी में लाएं ताकि समय पर फसल की खरीद हो सके। उन्होंने बताया कि सीजन के शुरूआत में अदायगी को लेकर थोड़ी दिक्कत थी परन्तु अब इस का समाधान हो गया है और 72 घंटों में फसल की अदायगी की जायेगी। डीसी प्रदीप अग्रवाल द्वारा आज माछीवाड़ा मंडी के अतिरिक्त कूमकलां मंडी और समराला में भी खरीद प्रबंधों का जायजा लिया गया। मार्किट कमेटी के सचिव कुलदीप कुमार ने बताया कि मंडी में अब तक 1.25 लाख क्विंटल धान की खरीद हो चुकी है और आने वाले समय में किसानों को किसी भी किस्म की कोई परेशानी नहीं आने दी जायेगी। इस अवसर पर शक्ति आनंद, टहल सिंह औजला, रूपिंदर सिंह बेनीपाल, सतीश कुमार, अरविंदर पाल सिंह विक्की, मेजर सिंह, हरजिंदर सिंह खेड़ा, दर्शन लाल कुंदरा शामिल रहे।

माछीवाड़ा अनाज मंडी के खरीद प्रबंधों का जायजा लेने पहुंचे डिप्टी कमिश्नर प्रदीप अग्रवाल ने माछीवाड़ा निकट गांव लखोवाल में अधूरी पड़ी अनाज मंडी का जायजा लिया। लुधियाना जिले की प्रमुख मंडियों में आने वाली माछीवाड़ा अनाज मंडी में फसल अधिक आने से फड़ों की समस्या बनी रहती है। इस समस्या के समाधान के लिए आढ़ती एसोसिएशन. द्वारा पिछली सरकार के आगे अपनी मांग रखी थी। जिस को पूरा करने के लिए सरकार द्वारा मंडी के नये फड़ बनाने के लिए गांव लखोवाल की 17 एकड़ पंचायती जमीन मंडी बोर्ड द्वारा ली गई और इस मे मक्की की फसल को सुखाने के लिए ड्रायर का निर्माण भी करवा दिया गया और फड़ों को बनाने का काम बीच में ही बंद हो गया। आढ़तियों द्वारा मंडी के इस रुके निर्माण को शुरू करवाने के लिए डिप्टी कमिश्नर लुधियाना को अपील की गई। जिस पर डिप्टी कमिश्नर द्वारा संबंधित अधिकारियों को साथ लेकर मंडी का जायजा लिया गया और फड़ों के इस रुके कार्य को जल्द शुरू करवाने का आश्वासन दिया गया।

राज्य सरकार द्वारा मंडियों में किसानों की लूट को रोकने के लिए तहसील स्तर पर अनाज मंडियों में तीखी नजर रखने के लिए डीएसपी रैंक के अधिकारियों की अगुवाई में विजिलेंस टीमों का गठन किया गया है। विजिलेंस के डीएसपी कुलवंत राय की अगुवाई में टीम द्वारा माछीवाड़ा अनाज मंडी का दौरा किया गया। उन्होंने बताया कि हमारी टीम धान के पूरे सीजन दौरान माछीवाड़ा और समराला मंडी में अपनी तीखी नजर रखेगी। डीएसपी कुलवंत राय ने बताया कि सीजन दौरान अगर कोई भी अधिकारी या आढ़ती किसानों की फसल बेचने के लिए रिश्वत की मांग करता है तो तुरंत सूचना दें।

खबरें और भी हैं...