पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सात सालों से चल रही अनोखी परंपरा, हर शुभ काम पर गांव वाले दान करते हैं खून

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बठिंडा। बठिंडा जिले का हररंगपुरा गांव। यहां हर शुभ काम पर पहले रक्तदान किया जाता है। चाहे वह शादी हो। बर्थ-डे हो। शादी की सालगिरह हो। धार्मिक कार्यक्रम हो। या फिर किसी के नौकरी की ज्वॉनिंग हो या रिटायटमेंट। गांव में रक्तदान कैंप का आयोजन अब परंपरा बन चुकी है।
शादी में दूल्हा घोड़ी पर चढ़ने से पहले। बच्चों के बर्थ-डे पर पैरेंट्स केक काटने से पहले। गांव वाले कीर्तन पाठ से पहले। रक्तदान करते हैं। इतना ही नहीं, बुजुर्गों की बरसी पर भी रक्तदान कैंप लगता है। लोग शादी व धार्मिक कार्यकर्मों के कार्ड में भी रक्तदान का जिक्र करते हैं। ऐसा यहां 7 सालों से चल रहा है। मकसद जरूरतमंदों की मदद करना है। ताकि बल्ड के अभाव में किसी की जान न जाए।

इस मुहिम की शुरुआत 2009 में हुई। दरअसल, यूनाइटेड वेलफेयर सोसायटी के संस्थापक नरेश पठानिया और विजय भट्ट हररंगपुरा गांव के युवाओं को रक्तदान के लिए जागरूक कर रहे थे। इसके बाद बड़ी संख्या में युवा मुहिम से जुड़ गए। उन्होंने घर वालों को रक्तदान का महत्व बताया। फिर गांवों वालों ने इसे शुभ कामों का हिस्सा बना लिया।
तभी से यह सिलसिला चल रहा है। पहली बार हरविंदर सिंह ने अपनी शादी के मौके पर 16 फरवरी 2009 को रक्तदान कैंप लगवाया। हरविंदर ने घोड़ी चढ़ने से पहले रक्तदान किया। गांव के राम सिंह फौजी की शादी 20 फरवरी 2016 को हुई। राम सिंह बारात जाने से पहले ब्लड डोनेट किया। गांव के पवनजीत और अकालजीत कौर हर शादी की सालगिरह पर ब्लड कैंप लगवाते हैं। हरबंस सिंह और मनप्रीत कौर भी शादी की सालगिरह पर कैंप में बल्ड डोनेट करते हैं।
पावरकॉम से रिटायर्ड होने पर बूटा सिंह के बेटे जगजीत सिंह, नमतेज सिंह व जसपाल सिंह ने रक्तदान कैंप का आयोजन करवाया। नमतेज सिंह ने बेटे मनिंदर व बेटी पारस दीप कौर के जन्मदिन पर कैंप का आयोजन करवाते हैं। चमकौर सिंह बेटे लाडी के जन्मदिन पर कैंप लगवाते हैं। धर्मपाल टेलर ने बेटा होने पर पत्नी सरबजीत कौर के साथ कैंप लगवाया। बाबा लछमन हरी डेरे के बाबा 1008 धुन्नी दास की हर बरसी पर कैंप लगवाते हैं। दिव्यांग बलजीत हर तीन महीने पर रक्तदान करते हैं।
और कई गांव भी हो रहे प्रेरित
हररंगपुर से जिले के दूसरे गांव भी प्रेरित हो रहे हैं। कोटशमीर में मनजीत सिंह गोरा ने बहन सुखप्रीत कौर की शादी पर बारात का स्वागत रक्तदान कैंप लगाकर किया। इसमें बारातियों ने भी रक्तदान किया। गांव के कृष्ण ने शादी से पहले रक्तदान किया। जोधपुर रुमाना में महिलाओं ने रक्तदान ब्रिगेड बनाई है। गोविन्दपुरा गांव में भी लोग शुभ कामों की शुरुआत रक्तदान से करते हैं।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें