• Hindi News
  • National
  • सेंट्रल बैंक से पैसे नहीं मिलने पर लगाया धरना

सेंट्रल बैंक से पैसे नहीं मिलने पर लगाया धरना

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
केंद्रसरकार द्वारा नोटबंदी करने सबंधी किए ऐलान के आज लगभग डेढ़ महीना बाद भी जहां लोगों को बैंक के सामने लाईनों में लगे हुए देखा जा रहा है। वहीं बुधवार को सुबह स्थानीय गऊशाला मार्ग पर स्थित सेंट्रल बैंक आफ इंडिया में से कैश लेने के लिए आए लोगों के सबर का बांध उस समय टूट गया जब बैंक अधिकारियों ने उपभोक्ताओं को कैश होने की बात कह डाली।

इस अवसर पर कश्मीर सिंह गांव करनीखेड़ा, गुलजार सिंह, भजन लाल नानक सिंह गांव खुई खेड़ा, बनवारी लाल दर्जनों की दर्जनों की संख्या में कैश लेने के लिए आए उपभोक्ताओं ने सैंट्रल बैंक आफ इंडिया के समक्ष रोष स्वरूप धरना लगाकर जोरदार नारेबाजी की। इस अवसर पर बैंक उपभोक्ताओं ने कहा कि वह गत लगभग डेढ़ माह से सरकार द्वारा लगाई गई नोटबंदी के कारण प्रति दिन बैंक से कैश लेने के लिए आते हैं बैंक के समक्ष लगने वाली लाइनों में कैश लेने के लिए अपनी बारी की प्रतीक्षा करते हैं। जिस कारण जहां उन्हें विभिन्न परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

मौके पर उपस्थित तृनमूल कांग्रेस के जिला कोआर्डीनेटर विशाल कामरा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लगाई गई नोटबंदी के कारण देश का प्रत्येक वर्ग परेशान हो चुका है।

फाजिल्का के सेंट्रल बैंक के सामने धरना लगाकर प्रदर्शन करते बैंक उपभोक्ता।

फिरोजपुर|बुधवार कोरेलवे रोड स्थित ओरिएंटल बैंक की शाखा में बाद दोपहर एक युवक ने बैंक प्रशासन के विरुद्ध जमकर हंगामा किया और कैश देने के आरोप लगाएं। अपनी प|ी के साथ गए अशोक महावर ने कहा कि बैंक का गेट बंद था और गार्ड द्वारा दो-चार लोगों को ही अंदर जाने दिया जा रहा था। वह बैंक से कैश निकलवाने गया तो उसे अंदर जाने से राेक दिया गया और उसके द्वारा परेशानी बताने के बाद भी अंदर नहीं जाने दिया गया। अशोक ने कहा कि उसके पिता कैंसर से पीड़ित हैं और उनकी देखभाल की जिम्मेदारी वहीं संभालता है। इस कारण बैंक मैनेजर को बताने के बाद जब कोई हल ना हुआ तो उसने हंगामा खड़ा किया। इसके बाद बैंक में पुलिस बुला ली।

खबरें और भी हैं...