पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • लीडरां ने देश दा बेड़ा गर्क करके रखता:अजमेर

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लीडरां ने देश दा बेड़ा गर्क करके रखता:अजमेर

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सारागढ़ीचौकी पर 12 सितंबर 1897 में हुए युद्ध में शहीद हुए 36वीं सिख रेजीमेंट की सिग्नल कोर के 21 वीर सैनिकों की याद में मॉल रोड स्थित सारागढ़ी गुरुद्वारा में श्रद्धांजलि समारोह करवाया गया। जहां चीफ गेस्ट जनमेजा सिंह सेखों नहीं पहुंचे।

प्रशासन द्वारा कैबिनेट मंत्री जनमेजा सिंह सेखों को मुख्यातिथि के तौर पर आमंत्रित किया था। सेखों के विस सत्र में व्यस्त होने के चलते वह श्रद्धांजलि समारोह में नहीं पहुंच पाए, जबकि उनके स्थान पर भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य कमल शर्मा ने गुरुद्वारा में माथा टेकने के बाद शहीदों के नाम संदेश दिया।

अपने संबोधन में कमल शर्मा ने कहा कि सिख रेजिमेंट के 21 शूरवीरों ने जिस बहादुरी के साथ 10 हजार पठानों का मुकाबला किया था, वह वाकई पूरी दुनिया में एक मिसाल है। इसी बहादुरी के बलबूते पर शूरवीरों को सर्वोत्तम जंगी ईनाम इंडियन अवार्ड ऑफ मेरिट दिया गया था। भाजपा के पूर्व प्रदेश प्रधान कमल शर्मा ने कहा कि शहीद हमारे मार्ग प्रदर्शक है और सभी को उनके दिखाए मार्ग पर चलने का अनुसरण करना चाहिए।

कार्यक्रम में शहीदी यादगार पर डीसी डीपीएस खरबंदा, रिटायर्ड ब्रिगेडियर जेएस अरोड़ा, एसडीएम संदीप गढ़ा ने पुष्पांजलि अर्पित की। अतिथियों ने सारागढ़ी के शहीदों के वारिसों, जंगी फौजियों उनके आश्रितों को सम्मानित किया। इस अवसर पर रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल जीएस गिल, अश्विनी कुमार, दविन्द्र कुमार, डाॅ. सतिन्द्र सिंह, अशोक बहल उपस्थित थे।

देश को लूटने में लगे हुए हैं कुछ नेता

1971के युद्ध कारगिल जंग जीतने वाले 65 वर्षीय अजमेर सिंह ने कहा कि लीडरां ने तां देश दां बेड़ा गर्क करके रखता है। उन्होंने कहा कि कुछ नेता उनकी सोच पर चलने की बजाय देेश को लूटने में लगे हुए है जो कि सही नहीं हैं।

कार्यक्रम में शहीदो को सम्बोधित करते हुए कमल शर्मा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय निवेश जैसे किसी आर्थिक गतिविधि में व्यस्तता रहेगी। लंबे समय से चली आ रही किसी चिंता से भी राहत मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए बहुत ही फायदेमंद तथा सकून दायक रहेगा। ...

    और पढ़ें