• Hindi News
  • National
  • राजनीतिक प्रबंधों में दशा और दिशा बदलना जरूरी : सज्जन

राजनीतिक प्रबंधों में दशा और दिशा बदलना जरूरी : सज्जन

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर संवाददाता | गुरदासपुर

ग्रामीणमजदूर यूनियन पंजाब जिला गुरदासपुर द्वारा 2017 विधानसभा चुनावों के अंतर्गत विभिन्न राजनीतिक विधायकों की ओर से एक साल पहले ही राज्य सभा पर अधिकार करने के संबंध में गहरी निराशा व्यक्त की है। विधायकों की निराशाजनक आर्थिक नीतियों के नजरिये को देखते हुए देश की सरकार का बार-बार संगठन और बदलाव की जरूरत की कोई गुंजाइश नहीं रही है। यूनियन प्रधान सज्जन सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार 2016-17 चुनाव के दौरान केन्द्र सरकार की भांति मेहनती वर्ग के लोगों को झूठे वादे कर रही है। सरकार गरीबी दूर करने के वादे पर खरी नहीं उतर रही। आजादी के बाद सामाजिक और आर्थिक समानता लाने के लिए राजनीतिक प्रबंधों में दशा और दिशा बदलने की जरूरत है, जबकि देश के नेता ऐसे राज्य प्रबंध स्थापित नहीं करना चाहते। 70 साल आजादी के बाद लोक राज्य प्रणाली की बागडोर संभालने के बावजूद भी देश की सामाजिक और निरपक्ष राज्य स्थापित करने के झूठे वादों का पुरजोर शब्दों में खंडन किया और देश में निरपक्ष राज्य स्थापित करने का आह्वान किया। यूनियन ने सरकार के नेताओं को चेताते कहा कि वह लोगों के साथ किए वादे पूरे नहीं कर सकते तो वे जनता को गुमराह करें।

पंजाब की बादल सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते मजदूर यूनियन के सदस्य।

खबरें और भी हैं...