पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • जोशी के भाई फल्ली का जमवाल पर निशाना

जोशी के भाई फल्ली का जमवाल पर निशाना

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भारतीयजनता पार्टी से निकाले गए कैबिनेट मंत्री अनिल जोशी के रिश्ते के भाई अनिल दत्त फल्ली ने शुक्रवार को भाजपा के प्रदेश संगठन सेक्रेटरी अजय जमवाल पर निशाना साधा। फल्ली ने कहा कि उन्हें पार्टी से निकालने से लेकर खन्ना में भाजपा की हार के पीछे केवल जमवाल की खन्ना में गैरजरूरी दखलंदाजी जिम्मेदार है। फल्ली खुद और उनकी प|ी रजनी फल्ली आजाद तौर पर 2 सीटों से विजयी रहे हैं।

फल्ली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि जमवाल पार्टी में ऐसे लोगों को पद दिलवा रहे हैं, जिन पर कत्ल के प्रयास के केस दर्ज हैं। जमवाल ने उनको पार्टी से निकलवा कर सूद परिवार के जिन दो कैंडिडेट्स को टिकट दिलाई थी, वे दोनों तो हारे ही, साथ ही एक की जमानत तक जब्त हो गई। जमवाल ने बिना आधार वाले उम्मीदवारों की मदद की।

फल्ली ने भाजपा प्रधान कमल शर्मा की तारीफ की और कहा कि शर्मा को जमवाल जैसे लोगों पर लगाम कसनी चाहिए। फल्ली ने कहा कि वे अब प्रधान पद के लिए उसका साथ देंगे, जो करप्ट नहीं होगा और शहर का एक समान विकास करेगा। इस अवसर पर उनकी प|ी रजनी फल्ली, सिमरन लोटे, रोहित शर्मा, ओंकार शर्मा गोल्डी, अनुराग नैयर, नितीश और मनीष अग्निहोत्री भी मौजूद रहे। भाजपा ने फल्ली पर जीत के बाद अहंकार के नशे में चूर होने का आरोप लगाया है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रजनीश बेदी ने कहा कि जीत हासिल करना बड़ी बात नहीं है। पार्टी के अनुशासन में रहना बड़ी बात है। फल्ली का अहंकार उन्हें डुबोने के लिए काफी है। बेदी ने कहा कि फल्ली ने पार्टी का अनुशासन तोड़ा था, इसलिए उनके खिलाफ कार्रवाई हुई।

संयुक्त रूप से लिए फैसले : जमवाल

अजयजमवाल ने फ़ोन पर बातचीत में फल्ली के आरोपों पर सफाई देते कहा कि पार्टी में निजी नहीं, संयुक्त रूप से फैसले लिए जाते हैं। इस बार भी यही किया गया। फल्ली को एक वार्ड से पार्टी ने टिकट दी थी, लेकिन फल्ली दो सीटों पर चुनाव लड़ने को अड़ गए। इस जिद्द के चलते पार्टी को फल्ली के खिलाफ सख्त फैसला लेना पड़ा।

फल्ली ने कहा कि जमवाल ने अपराधियों को टिकट दिलवाई।