• Hindi News
  • National
  • कल्चरल पालिसी के लिए सिद्धू को प्रस्ताव भेजा

कल्चरल पालिसी के लिए सिद्धू को प्रस्ताव भेजा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेशमहासचिव भाजयुमो एवं युवा भाजपा की तरफ से बनाई गई कल्चरल कमेटी पंजाब के प्रभारी अनुज छाहड़िया ने राज्य की कल्चरल पालिसी के लिए मंत्री नवजोत सिद्धू को प्रस्ताव भेजा है। उनके साथ युवा मोर्चा के साथियों सहित मंडल भाजपा प्रधान सुधीर सोनू व् महासचिव हरसिमरत रिची भी थे। इस प्रस्ताव में सभ्याचारक नीति को विचार प्रचार और रोजगार पर आधारित रखने का प्रस्ताव भेजा।

छाहड़िया ने कहा कि कुछ राजनीतिक पार्टियों द्वारा सत्ता के लिए पंजाब की अमीर विरासत से खिलवाड़ किया गया। जिसकी पुन: स्थापना के लिए युवा भाजपा काम कर रहा है। राज्य सरकार को सभ्याचार के ऊपर नई नीति बनाकर सहयोग देने की मांग की। इस नीति में विचार भूमिका अंदर राज्य के पूरे सभ्याचार पर जनता, बुजुर्गों, साहित्यकारों, के साथ विचार करने के बाद जानकारी इकट्ठी की जाए। इसमें खान पान, पहरावा, हैंडलूम और हैंडीक्राफ्ट, रस्म और त्योहार, राज्य की बसाहट और उन्नति, खेल-खिलौने , फुलकारी , राजे व् रियासतें एवम राज्य की उन्नति में उनका योगदान, गुरुओं और फकीरों की जानकारी और निशानियां और उनकी हस्तलिखित , राज्य की पुरातनता की जानकारी जिसमें महर्षि वाल्मीकि जी से लेकर ऋग्वेद सिरजना की धरती, हड़प्पा कालीन सभ्यता आदि को इकट्ठा किया जाए। प्रचार के अधीन इलेक्ट्रॉनिक, सोशल, और प्रिंट मीडिया द्वारा स्कूल्स में ज्ञान प्रतियोगिताएं व् प्रदर्शनी द्वारा, मोबाइल एप्प व् वेबसाइट, बॉलीवुड के बड़े हिस्से का पंजाबी होने का लाभ उठाकर, कॉफी टेबल बुक द्वारा किया जाए। पंजाबी हैंडीक्राफ्ट फुलकारी, परांदे जूती आदि को पहरावे के गिफ्ट आइटम द्वारा प्रचारित करके, खान पान जिसमे संगरूर के आइसक्रीम के पकोड़े , सुनाम के मीठे समोसे, बंगा के गुड़ माखना लस्सी, शक्कर, साग मक्की की रोटी, कांजी आदि पंजाबी खाने के लाभ को भी प्रचारित किया जाए। स्कूल टूर को संघोल और विरासतें खालसा की टिकटें रियायती और ऑनलाइन की जाएं। मुगल, बुद्ध, धार्मिक, रियासती सर्किट बनाए जाएं। लाइट साउंड शो आदि कई बिंदु जोड़ें।रोजगार में कहा गया कि सभ्याचार को बाकि राज्यों की तरह युवाओं और कामगारों के लिए जब तक कमाई का साधन नही बनाया जाता तब तक इसे लम्बा नहीं बचाया जा सकता।

खबरें और भी हैं...