पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • 50 वार्डों में लड़ सकती है बीजेपी चुनाव

50 वार्डों में लड़ सकती है बीजेपी चुनाव

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शिरोमणिअकाली दल की सीट पर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले पूर्व डीजीपी परमदीप सिंह गिल ने अकाली दल के खिलाफ खुले तौर पर मोर्चा खोल दिया है। बुधवार को चंडीगढ़ में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के साथ हुई बैठक के बाद जिला भाजपा की बैठक में वीरवार को ऐलान कर दिया गया कि भाजपा नगर निगम चुनावों में 50 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है।

वीरवार को जिलाध्यक्ष राकेश शर्मा की अध्यक्षता में शहीदी पार्क में भारतीय जनता पार्टी की बैठक हुई, जिसमें पूर्व डीजीपी परमदीप सिंह गिल भी विशेष रूप से उपस्थित हुए। इस दौरान पूर्व डीजीपी गिल ने शिरोमणि अकाली दल का दामन छोड़ते हुए भाजपा में शामिल होने की बात को स्वीकारा। उन्होंनें कहा कि जिस तरह से पंजाब में गठबंधन सरकार के चलते भाजपा के वर्करों को दरकिनार किया जा रहा है। ऐसे में वह राज्य अध्यक्ष कमल शर्मा से बातचीत करके सभी वार्डों पर अकेले ही चुनाव लड़ने की रणनीति तय करेंगे और नगर निगम का मेयर भी भारतीय जनता पार्टी का ही वर्कर होगा।

इससे पहले बैठक में भाजपा के जिला अध्यक्ष राकेश शर्मा, स्टेट मैंबर त्रिलोचन सिंह गिल, मंडल अध्यक्ष सुधीर मित्तल, वनीत चोपड़ा, महामंत्री विनय शर्मा, एडवोकेट सुनील गर्ग सहित भाजपा वर्करों ने गिल को फूलों का बुक्का भेंट कर सम्मानित किया। इस मौके भाजपा के स्टेट मेंबर राकेश भल्ला, एडवोकेट नीरज सूद, प्रमोद गोयल, विनय शर्मा, विनीत चोपड़ा, सुधीर मित्तल, रविंदर गोयल, दविंदरपाल रिंपी, अनिल बांसल, गुरप्रीत सचदेवा, विकास बांसल, राहुल गर्ग, भजन सितारा, खेमराज अग्रवाल, डा. संजीव, पुरुषोत्तम पुरी, साहिल मित्तल, राज बहादुर बांसल, बलदेव सिंह गिल, निशा शर्मा आदि हाजिर थे। (गुलाटी)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भाजपा के साथ ओर वर्करों को जोड़ने के लिए एक नवंबर से सदस्यता अभियान शुरू किया है। इसके तहत पंजाब में 9 नवंबर से जालंधर से सदस्यता अभियान शुरू किया जाएगा। इस दौरान एक दिन के लिए मोगा में भी वर्कशाप लगाई जाएगी।

तीखे तेवर के साथ शुरू की भाजपा में राजनीति

पूर्वडीजीपी परमदीप सिंह गिल ने तीखे तेवर के साथ भाजपा में अपनी राजनीति की शुरुआत की है। 2013 में मोगा में हुए उपचुनाव में कांग्रेस को छोड़कर अकाली दल में आए जोगिंदरपाल जैन को शिरोमणि अकाली दल द्वारा चुनाव लड़ा कर जीताने का गुस्सा वह अकाली दल के खिलाफ निकालने लगे है। जम