पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • डॉ. हरमिंदर 106 बेसहारा लड़कियों के पिता बनकर दे रहे हैं सहारा

डॉ. हरमिंदर 106 बेसहारा लड़कियों के पिता बनकर दे रहे हैं सहारा

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खरड़ | आजके समय में जहां माता-पिता को अपनी एक या दो लड़कियों को पालने उनकी देखरेख करने में कई मुश्किलों का सामना पड़ता है। वहीं खरड़ के डॉ. हरमिंदर सिंह 106 अनाथ लड़कियों को सिर्फ पाल रहे हैं, बल्कि उनकी देखरेख उन्हें शिक्षा भी दे रहे हैं। खरड़ रंधावा रोड पर ज्योति स्वरूप कन्या आसरा सोसायटी में इस समय 106 अनाथ लड़कियों की परवरिश की जा रही है। 2 साल से लेकर 22 साल तक की इन अनाथ लड़कियों की देखभाल शिक्षा का सारा जिम्मा डाॅ. हरमिंदर सिंह के कंधों पर है। वह हमेशा इन अनाथ बच्चों के लिए राशन, कापी किताबें, स्कूल ड्रेस, जूते चप्पल और दवा आदि के लिए व्यस्त रहते हैं। डॉ. सिंह ने बताया, सभी लड़कियां उन्हें पापा कह कर पुकारती हैं। उन्होंने बताया, आतंकवाद के दौरान अनाथ लड़कियों को सहारा देने के लिए उन्होंने सोसायटी बनाई थी। उन्होंने बताया, उस समय 4 अनाथ लड़कियां आश्रम में थीं।

खबरें और भी हैं...