पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • ओवरटेकिंग में बस ट्रक से टकराई, 20 लोग जख्मी

ओवरटेकिंग में बस ट्रक से टकराई, 20 लोग जख्मी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पटियाला. राजपुरा रोड स्थित धरेेड़ी जट्टा गांव के पास कार को ओवरटेक करते समय तेज रफ्तार बस पटियाला से चंडीगढ़ जा रहे ट्रक से टकरा गई। जिसमें 20 लोग जख्मी हो गए। एक्सीडेंट बुधवार रात 11 बजे हुआ। ट्रक की टक्कर पीआरटीसी किलोमीटर स्कीम बस से हुई।

13 घायलों को राजिंदरा अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिनको मामूली चोट लगी वह घटनास्थल से घर चले गए। हादसा इतना जबरदस्त था कि बस ड्राइवर को आधे घंटे की मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। बस की बॉडी काटनी पड़ी। जैक के सहारे उसे निकालकर अस्पताल भेजा गया। चौकी बहादुरगढ़ पुलिस ने ट्रक ड्राइवर रंजीत सिंह के बयान पर बस ड्राइवर धरमिंदर सिंह के खिलाफ मुकद्दमा नंबर 217 दर्ज कर लिया है।

इलाज के बाद तुरंत डिस्चार्ज, पुलिस को नहीं मिला बयान

रात 11 बजे हुए इस हादसे में जख्मी यात्रियों की पहचान गुरप्रीत सिंह (30 साल), जतिंदर सिंह (28), अमरजीत कौर (50), सुखविंदर कौर पुत्री हाकम सिंह (30), मनमोहन सिंह (59) पुत्र करतार सिंह, सुरजीत पाल सिंह (40), ट्रक ड्राइवर रंजीत सिंह (37) पुत्र इकबाल सिंह, बस ड्राइवर धरमिंदर सिंह(44) पुत्र जोध सिंह निवासी आनंद नगर, सुरेश कुमार (32) पुत्र कृष्ण लाल, कुलबीर सिंह (33) पुत्र भजन सिंह, गुलशन जीत सिंह (20), विनोद शर्मा (65) पुत्र रूप चंद सुरिंदर कौर (60) पत्नी विनोद शर्मा के रूप में हुई है। जख्मी अस्पताल में प्राथमिक इलाज कराने के बाद वीरवार सुबह दस बजे से पहले छुट्टी करके चले गए। जिस वजह से पुलिस लोगों के बयान नहीं ले सकी।

मेडिकल रिपोर्ट में खुलासा बस के ड्राइवर ने नहीं पी थी शराब

जांच अधिकारी मंजीत सिंह ने कहा कि आरोपी बस ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल वह अनफिट है, जिस वजह से उसने बयान नहीं ले पाए हैं। मेडिकल में बस ड्राइवर के शराब पीने की पुष्टि नहीं हो पाई है।

ट्रक ड्राइवर रंजीत सिंह ने बताया कि वह चंडीगढ़ जा रहा था। ट्रक में मालिक का बेटा भी था। धरेड़ी जट्टा गांव के पास राजपुरा से रही बस बेकाबू हालत में दिखी। हाॅर्न डिप्पर मारे, बस की रफ्तार नहीं थमी। मौत सामने देख छलांग लगा दी। जिससे एक पैर कंधा टूट गया। बस ने ट्रक को सीधी टक्कर मारी। रंजीत ने कहा कि बस का ड्राइवर शराबी हालत में लग रहा था।