पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कर्मचारियों ने सीएम के नाम सौंपा ज्ञापन

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अजमेर|संयुक्त कर्मचारीमहासंघ प्रदेश स्तरीय आंदोलन के तहत 21 जुलाई को महासंघ जिलाध्यक्ष बद्री प्रसाद शर्मा की अगुवाई में दोपहर भोजनावकाश में मुख्य मंत्री के नाम का ज्ञापन जिला कलेक्टर सौंपा। महासंघ प्रवक्ता दिनेश शर्मा ने बताया ज्ञापन में 2800 रुपए पे ग्रेड तक के कर्मचारियों की प्रस्तावित कटौती को निरस्त करने की मांग की गई। महासंघ ने 15 सूत्री मांग पत्र 7वें वेतन आयोग निराकरण शीघ्र करने की मांग की। नर्सिंग कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्याम सिंह के निलंबन को निरस्त करने की मांग की गई। ज्ञापन देने वालों में चंद्रशेखर शर्मा, अतुल मुनवाल, कांति शर्मा, ज्ञानेंद्र सिंह, गुलाब सिंह भाटी, अनिल कुमार जैन, अतुल भार्गव, अजय सोनी, विशाल वैष्णव, महेंद्र तीर्थानी सहित मौजूद थे।

विभिन्नमांगों को लेकर उपनिदेशक से वार्ता

राजस्थानपातेय वेतन वरिष्ठ अध्यापक प्रधानाध्यापक संघ की ओर से जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया। संयोजक दिनेश शर्मा ने कि कि ज्ञापन में राजस्थान सेवा नियम 1971 फिर से लागू करने, पातेय वेतन वरिष्ठ अध्यापकों की पदोन्नति कन्फर्म करने सहित अन्य मांग की गई। साथ ही इस विषय में उपनिदेशक मंडल अजमेर से वार्ता की गई। उपनिदेशक ने 21अगस्त को बुलाया है। वार्ता में बद्री प्रसाद शर्मा, चंद्रशेखर शर्मा, विजय सिंह गौड़, कांति शर्मा, रामरतन मीणा, महेंद्र कुमार सैन, हीरालाल गुर्जर सहित मौजूद थे।

रोडवेजकर्मियों ने दिया धरना

अजयमेरुआगार राजस्थान स्टेट एम्पलाइज यूनियन के सचिव अनिल कटारिया के नेतृत्व में मध्यांतर के दौरान तीन माह के बकाया वेतन के लिए मुख्य प्रबंधक एवं वित्तीय प्रबंधक का घेराव कर नारेबाजी की गई। वित्त प्रबंधक एवं मुख्य प्रबंधक द्वारा जयपुर से वार्ता करने के बाद कर्मचारियों को 24 जुलाई तक वेतन देने का आश्वासन दिया है। कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि सोमवार तक वेतन नहीं मिला तो विरोध किया जाएगा। कर्मचारियों को पूर्व सचिव अमर कुमार शर्मा वर्तमान अध्यक्ष सद्दीक मोहम्मद ने संबोधित किया। प्रदर्शन करने वालों में उगमा राम, लोकेश जांगिड़, रोनी वाल्टर, अनिल टांक, संतोष सोनी, जितेंद्र कोमल, शिवजी यादव, सचिन यादव, ओमप्रकाश, सुरेश गणपत सिंह, राकेश सिंह आदि एटक यूनियन के कार्यकर्ता शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...