पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जल झूलनी महोत्सव आज

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अजमेर|श्री विश्वकर्मामंदिर और बगीची विकास समिति की ओर से मंगलवार को 86वां रेवाड़ी उत्सव मनाएंगे। अध्यक्ष देवकीनंदन नागल ने बताया कि जलझूलनी ग्यारस के अवसर पर मंगलवार शाम 4 बजे बाल कृष्ण की झांकी सहित रेवाड़ी का आयोजन किया जाएगा। मंत्री धर्मेंद्र कुमार मारोठिया ने बताया कि शोभायात्रा श्री विश्वकर्मा मंदिर रामगंज से प्रारंभ होकर मंदिरवाली गली, बिखरे बालाजी मंदिर होते हुए जांगिड़ ब्राह्मण शिव मंदिर पर कुआं पूजन कर नई बस्ती, राम मंदिर, गोविंद नगर, डॉ. सुभाष माहेश्वरी गली, संस्कृति विद्यालय गली, पत्थर वाली गली से होर विश्वकर्मा मंदिर पहुंचेगी जहां श्रद्धालुओं द्वारा महाआरती कर प्रसाद वितरित किया जाएगा। रास्ते जगह जगह रेवाड़ी का स्वागत किया जाएगा।

जलझूलनी एकादशी पर लक्ष्मीनारायण मंदिर हाथी भाटा की रेवाड़ी मंदिर हाथी भाटा से गाजे बाजे एवं पालकी सहित मंदिर प्रांगण से शाम 4 बजे रवाना होगी। मंदिर के वासुदेव मित्तल ने बताया कि रेवाड़ी हाथी भाटा, सुंदर विलास होते हुए लवकुश गार्डन जाएगी। स्नान पूजा के बाद पुनः नया बाजार, चूड़ी बाजार, हाथी भाटा होते हुए मंदिर पहुंचेगी।

श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार सभा द्वारा मंगलवार शाम 5 बजे से पुष्कर रोड़ ऋषिघाटी स्थित मैढ़ स्वर्णकार समाज की बगीची में जल झूलनी महोत्सव मनाया जाएगा। इसमें भजन गायक कैलाश कांदला, सुभाष सोनी एवं उर्मिला तूणगर द्वारा श्री ठाकुर जी के भजनों की प्रस्तुति दी जाएगा, इसके बाद श्री ठाकुरजी की रेवाड़ी को समाज बंधुओं द्वारा ढोल बाजों के साथ विहार के लिए लवकुश उद्यान लाया जाएगा।

बैठकआज: जलझूलनीएकादशी पर संगीत की एक बैठक सुंदर विलास स्थित गर्ग भवन में होगी। गायक अशोक तोषनीवाल, आनंद वैद्य एवं आर्ट आॅफ लिविंग के डाॅ. रजनीश चारण भजन प्रस्तुत करेंगे। उमेश गर्ग ने बताया कि इस अवसर पर ठाकुर जी का अनुपम शृंगार एवं जलाभिषेक होगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें