• Hindi News
  • Abad Was Held At The Resort As Pakistanis, Filed A Lawsuit Against The Owner

रिसॉर्ट में अबैध रूप ठहराए थे पाक नागरिक, मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुष्कर/अजमेर.अवैध रूप से दो पाक नागरिकों के ठहराने के मामले में आखिर पुष्कर पुलिस ने एक माह बाद लीलासेवड़ी स्थित होटल अनंता रिसॉर्ट के मालिक व प्रबंधक के खिलाफ विदेशी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
पुलिस के अनुसार इस्लामाबाद निवासी पाक नागरिक इम्तियाज हुसैन एवं जमशेद गत 14 दिसंबर को ग्राम लीलासेवड़ी स्थित अनंता रिसॉर्ट में ठहरे थे। आरोप है कि दोनों के पास अजमेर का वीजा था।
बावजूद इसके रिसॉर्ट प्रबंधक ने उन्हें अवैध रूप से रिसॉर्ट में ठहरा दिया। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस ने रिसॉर्ट प्रबंधक व मालिक को नोटिस जारी कर स्पष्टीकरण मांगा। लेकिन वे संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। मामले की तफ्तीश के बाद पुष्कर पुलिस ने बिना वीजा अवैध रूप से पाक नागरिकों को ठहराने के आरोप में बुधवार की शाम रिसॉर्ट के मालिक मुकुंद गोयल व प्रबंधक अंशुल के खिलाफ विदेशी अधिनियम 1946 की धारा 3,7,13 व 14 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
ऑनलाइन कराई थी बुकिंग
दोनों पाक नागरिकों ने अनंता रिसॉर्ट में ठहरने के लिए ऑनलाइन बुकिंग कराई थी। दोनों 14 दिसंबर को रिसॉर्ट में आकर ठहरे और दूसरे दिन दोपहर को आगरा के लिए रवाना हो गए।
अजमेर का ही था वीजा : दोनों पाक नागरिक सात दिन का वीजा लेकर भारत भ्रमण पर आए थे। उनके पास अजमेर का ही वीजा था लेकिन वे पुष्कर थानांतर्गत अनंता रिसॉर्ट में ठहरे। पाक नागरिकों को स्थान विशेष का वीजा जारी किया जाता है। नियमानुसार वे वीजा में अंकित स्थान विशेष पर ही आ जा सकते हैं।
सी-फार्म की जांच में मामला हुआ उजागर : रिसॉर्ट प्रबंधक ने पाक नागरिकों रिसॉर्ट में ठहरने की सूचना पुलिस को सी-फार्म के जरिए दी थी। पाक नागरिक के सी-फार्म देखते ही पुलिस के कान खड़े हो गए। फार्म की जांच में पता चला कि दोनों पाक नागरिकों के पास अजमेर का ही वीजा था।
नशीली पार्टी के संबंध पूछताछ जारी :
गत दो दिन पूर्व भी अनंता रिसॉर्ट के प्रबंधकों की ओर से रेतीले धोरों में नशीली पार्टी आयोजित की गई। इस संबंध में पुलिस रिसॉर्ट के प्रबंधकों व कर्मचारियों से कड़ी पूछताछ कर रही है।
प्रारंभिक पूछताछ में हालांकि कर्मचारियों ने धोरों में पार्टी आयोजित करना कबूल किया है। लेकिन उन्होंने पार्टी में देसी-विदेशी पर्यटकों को शराब व कबाब परोसने से इंकार किया है। इसके चलते पुलिस अब पार्टी के साक्ष्य जुटाने का प्रयास कर रही है। उधर पार्टी में पर्यटकों को ऊंट गाड़ियों में बैठा कर ले जाने वाले कैमल सफारी संचालक पुलिस की कार्रवाई से बचने के लिए भूमिगत हो गए हैं।