• Hindi News
  • Assassination Of Troops On The Border: Beawar Bandh

सरहद पर सैनिकों की निर्मम हत्या: ब्यावर बंद का आह्वान

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ब्यावर.सरहद पर भारतीय सैनिकों की निर्मम हत्या करने के विरोध में विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल ब्यावर की ओर से मंगलवार को ब्यावर बंद का आह्वान किया गया है। विहिप के जिला मंत्री सुरेश वैष्णव ने बताया कि पेट्रोल पम्प, निजी व सरकारी स्कूल, मेडिकल स्टोर, बैंक, सरकारी व निजी कार्यालय बंद रखने का आह्वान किया गया है। एकेएच व पाश्र्वनाथ समेत अस्पताल सेवाओं को बंद से मुक्त रखा गया है।
सरकार से मांग की गई है कि पाकिस्तान को करारा जवाब देकर सैनिक का सिर लाकर उसके परिवार को ससम्मान सौंपा जाए। बंद सफल बनाने के लिए सभी कार्यकर्ता सुबह 7 बजे चांगगेट पर एकत्र होंगे।शाम 5 बजे तक बंद रहेगा। इसके लिए एक बैठक आयोजित कर विचार-विमर्श किया गया।
इस दौरान नितेश गोयल, सुरेश वैष्णव, डूंगरमल सांखला, हेमंत कुमावत, माणक साहू, अशोक शारडा, गौरव सक्सैना, पारसराम चंदवानी, ओमप्रकाश साहू, दानाराम, मनीष बंसल, बद्री सामरिया, हेमंत भाटी, सुरेंद्र जालवाल समेत अन्य लोग मौजूद थे।
भाजपा ने जताया समर्थन पाकिस्तान सैनिकों द्वारा धोखे से भारतीय सैनिकों की निर्मम हत्या के विरोध में विश्व हिंदू परिषद द्वारा मंगलवार को ब्यावर बंद के आह्वान का भाजपा मंडल ब्यावर ने भी समर्थन किया। भाजपा महामंत्री देवेंद्र शर्मा ने बताया कि इस विषय को लेकर भाजपा पदाधिकारियों की बैठक हुई। इसमें पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा की गई घृणित कार्रवाई की निंदा करते हुए इसके विरोध में होने वाले बंद को पूर्ण सहयोग देने का निर्णय लिया गया।
बैठक में पूर्व विधायक देवीशंकर भूतड़ा, मंडल अध्यक्ष भूदेव आर्य, चेतन गोयर, राम अवतार लाटा, अविनाश गर्ग, लक्ष्मण सिंह हुडा, मुरली तिलोकानी, गौरीशंकर भाटी, प्रकाश परिहार, महेंद्र दीप बजाज, संतोष जाग्रत, श्रीकिशन जांगिड़, संजय करेल, प्रमोद शर्मा व जितेंद्र सोनी मौजूद थे। इसके अलावा हिंदुवादी संगठनों की ओर से किए गए ब्यावर बंद आह्वान अन्य संगठनों ने भी समर्थन किया।
विभिन्न संगठनों का समर्थन हिंदुवादी संगठनों की ओर से किए गए ब्यावर बंद के आह्वान का अन्य संगठनों ने भी समर्थन किया। पंडित दीनदयाल स्मृति युवा संघ की बैठक आशापुरा माता धाम में हुई। बैठक में तहसील अध्यक्ष बद्री सामरिया, नगर अध्यक्ष धनपत मेहता, मनीष भंसाली, सुरेंद्र सोनी, आलोक गुप्ता, सत्यनारायण शर्मा, मोहन खानवानी, प्रदीप झंवर आदि मौजूद थे।
पुलिस ने किए पुख्ता प्रबंध विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल द्वारा मंगलवार को बंद को देखते हुए पुलिस प्रशासन भी सुरक्षा को लेकर कोई कसर नहीं छोड़ना चाहता। बंद के दौरान स्थिति से निपटने के लिए अतिरिक्त जाब्ते की व्यवस्था कर ली गई है। पुलिस उप अधीक्षक गोपीसिंह शेखावत के अनुसार बंद के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस बल के साथ आरएसी और होमगार्ड के जवानों को भी तैनात किया जाएगा।
हाल में ब्यावर में आई 9 टोंक आरएसी कंपनी के जवानों को भी जाब्ते में शामिल किया गया है। सिटी थाना प्रभारी भगवत सिंह राठौड़ ने बताया कि वृत्त के अन्य थानों से भी जाब्ता और वाहन मंगवाए गए हैं। बंद के दौरान विभिन्न स्थानों पर सादी वर्दी में भी पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।
अजमेर: शहीदों के सम्मान में बाजार बंद करने की अपील
कारगिल सीमा पर शहीद हुए सैनिकों के सम्मान में नवदुर्गा मंडल, नव निर्वाण सेवा तथा उत्थान मंच की ओर से 16 जनवरी दोपहर 12 बजे तक बाजार बंद रखने की अपील की है।
मंडल अध्यक्ष गोविंद जादम ने बताया कि शहर के व्यापारियों से स्वेच्छा से बाजार बंद रखने का सहयोग मांगा गया है। इस दिन सुबह 10.30 बजे बजरंगगढ़ चौराहे से वाहन रैली निकाली जाएगी। दोपहर 12 बजे आतंक का पुतला फूंका जाएगा।
कार्यक्रम की रूप रेखा तय करने के लिए सोमवार को एक बैठक आयोजित की गई। जिसमें पूर्व पार्षद अशोक राठी, नरेंद्र शेखावत, रविंद्र जसोरिया, रामाकिशन प्रजापति, पृथ्वीराज सांखला, भगवान लालवानी, शेखर थौरी, संजीव नागर। राजेंद्र प्रजापति, ऋषि धारू, विक्रम रावत समेत अन्य लोग शामिल हुए।