• Hindi News
  • But The Voice Did Not Answer, Looked And Looked Noose Was Hung By Yogendra

आवाज दी लेकिन नहीं आया जवाब, झांककर देखा तो फंदे से लटका था योगेन्द्र

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अजमेर.आदर्शनगर थाना इलाके में बीती रात धर्मकांटे पर काम करने वाले कर्मचारी ने फांसी लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली। मृतक का सुसाइड नोट नहीं मिला है। उसके परिजनों ने भी आत्महत्या की कोई वजह नहीं बताई है।
थाना प्रभारी ओमप्रकाश वर्मा ने बताया कि गांव हनुवंतिया निवासी योगेन्द्र सिंह (26) पुत्र भंवर सिंह आदर्शनगर इलाके में कृष्णा धर्मकांटे पर काम करता था। वह रविवार रात को कांटे पर अकेला तैनात था। सुबह नजदीक स्थित चाय वाले ने उसे आवाज देकर जगाने की कोशिश की लेकिन भीतर से कोई जवाब नहीं मिलने पर उसने झांक कर देखा तो कमरे में योगेन्द्र फंदे पर लटका हुआ था।
उसने पंखे के कुंदे से वायर का फंदा बनाकर फांसी लगाई थी। पुलिस को मृतक के कमरे से सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। सब इंस्पेक्टर नाथूसिंह ने मामला दर्ज कर लिया है