पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुष्कर मेले में धमकी देने का मामलाः खाड़ी देश में है धमकी देने वाला

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुष्कर। पुष्कर मेला कंट्रोल रूम में 1 नवंबर को धमाकों की धमकी भरा फेक इंटरनेट कॉल करने वाले की एटीएस ने पहचान कर ली है। आरोपी पुष्कर के आसपास का ही निवासी है और खाड़ी देश अमीरात में नौकरी कर रहा है। एटीएस ने इंटरनेट कॉल के सर्वर से 9 डिजिट नंबर के आधार पर महत्वपूर्ण जानकारी जुटाई है। पुलिस और एटीएस अधिकारी जांच पूरी होने तक इस बारे में ज्यादा जानकारी देने में असमर्थता जाहिर कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि फेक कॉल करने वाले ने खुद का नाम पाकिस्तान निवासी अब्दुल रहमान बताते हुए चेतावनी दी थी कि पुलिस के दूरसंचार संसाधनों में कभी भी विस्फोट हो सकता है। इस आधार पर पुलिस आइटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर तफ्तीश कर रही है। एटीएस के एडीजी आलोक त्रिपाठी के नेतृत्व में भी अलग से जांच की जा रही है।
यह दी थी धमकी
एसपी महेंद्र सिंह चौधरी ने बताया कि मेले में दहशत फैलाने की नीयत से 1 नवंबर की शाम करीब साढ़े 6 बजे मेला ग्राउंड पर बने पुलिस कंट्रोल रूम में इंटरनेट कॉल आया। हैडकांस्टेबल गिरधारी सिंह ने बताया कि फोन करने वाले ने अपने आप को पाकिस्तान का नागरिक अब्दुल रहमान बताया था। उसने धमकी दी कि पुष्कर के दूरसंचार के संसाधनों को वह विस्फोट कर उड़ा देगा। एटीएस ने इंटरनेट काॅलिंग से मिले 9 नंबर के डिजिट की पड़ताल की तो सामने आया कि पुष्कर में आतंकी धमकी देने वाला पीसांगन और पुष्कर के आसपास का मूल निवासी है। वह खाड़ी देश अमीरात में रह कर नौकरी कर रहा है। उसने फोन भी अमीरात से ही किया था। सूत्रों की माने तो एटीएस की टीम ने आरोपी के घर जाकर भी पड़ताल की है। मामले की जांच अपराध शाखा प्रभारी हस्तीमल कर रहे हैं।