पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीएम मिलती...

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सीएम मिलती...

जयपुरमें सरकार की नाक के नीचे डकैती हुई। महिलाओं के साथ दुष्कर्म किया गया। यह साबित करता है कि प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज नहीं रही। अलवर सहित प्रदेश में आए दिन हो रही घटनाएं मानवता पर कलंक हैं। उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार मुआवजे की गलत मांग नहीं कर रहा। गुंडा, बदमाश के लिए कोई मुआवजा नहीं मांगता। पीड़ित परिवार को राहत देना सीएम के हाथ में हैं। गहलोत ने कहा कि उन्होंने 45 साल राजनीति में बिताए। लेकिन ऐसे हालात कभी नहीं देखे। घटना के 11 दिन बाद मृतक छात्र के परिजनों के खिलाफ ही झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया। दोषी लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो ऐसी घटनाएं बढेग़ी। महापंचायत को पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह, राज्य सभा सांसद अश्कअली टांक, पूर्व मंत्री रामकिशोर सैनी, पूर्व चिकित्सा मंत्री दुर्रू मियां, पूर्व सांसद डॉ.करण सिंह यादव, विधायक शकुंतला रावत, एआईसीसी सचिव जुबेर खान, जिला प्रमुख साफिया खान, धर्मेंद्र राठौड़, फजल हुसैन, कांग्रेस जिला अध्यक्ष अशोक दीक्षित सहित कई वक्ताओं ने संबोधित किया।

इलाकेके पांच लोगों की बनाए कमेटी : पूर्वकेंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि आरिफ को न्याय दिलाने के लिए जयपुर से दिल्ली तक लड़ाई लड़ेंगे। इलाके के पांच लोगों की कमेटी बनाए। इसके जरिए सरकार के समक्ष मांगे रखी जाएंगी।

गबन के एक...

इसकेबाद वर्ष 1999 से 2010 तक का विद्यालय विकास फंड से जुड़ा रिकार्ड जब्त किया था। इस रिकार्ड की गहनता से जांच के बाद 8.29 लाख 931 रुपए की अनियमितताओं से निर्माण कर राजकीय कोष को नुकसान पहुंचाने संबंधी रिपोर्ट तैयार की गई थी तथा इस रिपोर्ट के बाद एसीबी मुख्यालय के आदेश पर ही स्कूल में समय-समय पर कार्यरत रहे तीन संस्था प्रधान और दो व्याख्याताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी।