पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • राखी बांधना सुबह 11.30 मिनट से 1.39 तक शुभ

राखी बांधना सुबह 11.30 मिनट से 1.39 तक शुभ

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
इसबार 7 अगस्त 2017 श्रावण शुक्ल पूर्णिमा सोमवार को रक्षाबंधन के दिन खण्डग्रास चंद्रग्रहण का योग बन रहा है। रक्षाबंधन पर चंद्रग्रहण भद्रा का योग बनने से लोगों को श्रावणी उपाकर्म करने राखी बंधवाने के लिए समय कम मिलेगा।

शहर के ज्योतिषाचार्य पंडित राममोहन शास्त्री ने बताया कि भद्रा की समाप्ति ग्रहण का सूतक लगने के बीच के समय रक्षाबंधन, श्रावणी उपाकर्म श्रवण पूजन करना शुभ रहेगा। उन्होंने बताया कि 7 अगस्त को रात 10 बजकर 40 मिनट से चंद्रग्रहण प्रारंभ होगा जिसका मध्य 11 बजकर 34 मिनट पर होगा। वहीं 12 बजकर 35 मिनट पर मोक्ष होगा। इसका सूतक दोपहर 1 बजकर 40 मिनट से आरंभ होगा तथा भद्रा दोपहर 11 बजकर 29 मिनट तक रहेगी। इसलिए रक्षाबंधन का समय दोपहर 11 बजकर 30 मिनट से 1 बजकर 39 मिनट तक शुभ रहेगा।

बहन के प्यार में भीगने वाली राखी को बरसाती पानी से बचाने के लिए अब वाटरप्रूफ लिफाफे

बहनकी राखी स्नेह की बारिश में तो भीग ही जाती है, लेकिन डाक विभाग ने वर्षों की तरह इस बार भी बरसात के पानी से राखियों को बचाने की व्यवस्था की है। इस बार भी वाटरप्रूफ वाले लिफाफे बाजार में उतारे हैं। भाई दूर शहरों में रहते हैं तो बहन डाक से राखी भेजती हैं, अक्सर लिफाफा कागज का और कमजोर होने से फट जाता है और कई बार राखी बारिश के पानी में भीग जाती है। अब ऐसा नहीं होगा। डाक विभाग वाटरप्रूफ लिफाफे उपलब्ध करवाएगा। साथ ही राखी भाई के पास तत्काल पहुंच जाए, इसकी व्यवस्था भी करेगा। सहायक डाक अधीक्षक केसी वर्मा ने बताया कि राखियों को सुरक्षित भेजने के लिए सभी प्रधान डाकघरों में विशेष रूप से निर्मित रंगीन डिजाइनदार वाटरप्रूफ लिफाफ आए हैं। उन्होंने बताया कि लिफाफे वाटरप्रूफ तथा सुरक्षा की दृष्टि से मजबूत होंगे।

मकर राशि श्रवण नक्षत्र में होगा चंद्रग्रहण

पंडितराममोहन शास्त्री ने बताया कि चंद्रग्रहण का प्रभाव मेष, सिंह, कन्या, वृश्चिक मीन राशि पर शुभ होगा। जबकि वृषभ, कर्क, धनु राशि पर मिश्रित प्रभाव रहेगा। शेष राशियों पर प्रतिकूल प्रभाव रहेगा। ऐसे में मकर, मिथुन, तुला कुंभ राशि वाले दान पुण्य करें एवं ग्रहण दर्शन नहीं करें। ग्रहण के सूतक लगने के बाद में वृद्ध, बीमार बच्चों को छोड़कर अन्य को भोजन नहीं करना चाहिए।

सजने लगा बाजार

रक्षाबंधनको लेकर शहर सहित आसपास के गांवों की दुकानों पर राखियां सजने लगी है। दुकानों पर तरह-तरह की राखियां मिलने लगी है। इन दिनों सर्वाधिक भीड़ थोक में राखी बेचने वालों की दुकानों पर देखी जा सकती है।

धर्म-कर्म

खबरें और भी हैं...