पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • एलबेंडाजोल की गोली खिलाने में नहीं करंे लापरवाही

एलबेंडाजोल की गोली खिलाने में नहीं करंे लापरवाही

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
भास्कर न्यूज | दौसा ग्रामीण

राष्ट्रीयकृमि दिवस के सफल क्रियावन्यन के लिए शिक्षा विभाग चिकित्सा विभाग की ओर से लवाण ब्लाक मुख्यालय पर सोमवार को निजी स्कूलों के संस्था प्रधानों का प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया गया जिसमें प्रधानाचार्यों प्रधानाध्यापकों को प्रशिक्षित कर 10 फरवरी को निजी स्कूलों एवं आंगनबाडी केन्द्रों पर कृमि मुक्ति दिवस एवं 15 फरवरी को मोपअप दिवस का आयोजन कर बच्चों को दवा खिलाए जाने की जानकारी दी गई।

प्रशिक्षण शिविर में बीईईओ राजाराम मीणा ने जानकारी देते हुए बताया कि ब्लाक के अधीन संचालित निजी प्राथमिक,उच्च प्राथमिक , माध्यमिक, उच्च माध्यमिक, स्कूलों के प्रधानाचार्य शिक्षकों को दो पारियों में प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें प्रथम पारी में 105 निजी स्कूलो के प्रधानाचार्यों शिक्षको ने प्रशिक्षण दिया गया। शिक्षकों को प्रशिक्षण देते हुए बीईईओ राजाराम मीणा ने कहा कि कृमि संक्रमण फैलने से बच्चों में कुपोषण खून की कमी हो जाती है। जिसकी रोकथाम के लिए बालकों को एलबेंडाजोल की दवा के सेवन से खून कुपोषण की बीमारी से छुटकारा मिलेगा। उन्होंने शिक्षको को निर्देश देते हुए कहा कि बालकों को दवा खिलाए जाने में किसी भी प्रकार की कोताही लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जावेगी। भूखे पेट बालकों को किसी भी सूरत में गोली नहीं खिलावें। बालकों खाने के बाद बालको को एक एक गोली खिलाए एबीईईओ गोपाल शर्मा ने कहा कि दवा खिलाए जाने में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं करें। स्कूलों में अध्यनरत बालकों के अलावा शिक्षक ईंट भट्टों शिक्षा से वंचित बालकों को भी गोली खिलाकर उनका रिकार्ड संधारण करें चिकित्सा विभाग की ओर से प्रशिक्षण में सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र लवाण के डा. प्रवीण र्स्वणकार ने कहा कि विभाग की ओर से 5 से 19 वर्ष के बालकों ही एक एक गोली चबाकर खाना खाने के बाद खिलाए जाने के कडे़ निर्देश दिए गए हैं। पांच वर्ष से छोटे बालकों को किसी भी सूरत में गोली नहीं खिलावें।

खबरें और भी हैं...