पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • रेटिना स्कैन से लगेगी हाजिरी, मरीजों की डॉक्टर नहीं मिलने की शिकायत होगी दूर

रेटिना स्कैन से लगेगी हाजिरी, मरीजों की डॉक्टर नहीं मिलने की शिकायत होगी दूर

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आरएमआरएस फंड से लगेगी मशीन, 15 फरवरी से होगी नई व्यवस्था शुरू

भास्करसंवाददाता| हनुमानगढ़

जिलाअस्पतालमें अब रेटिना स्कैन से हाजरी लगेगी। इसके लिए अस्पताल प्रशासन ने अत्याधुनिक मशीन लगाने की तैयारी शुरू कर दी है। खास बात है कि जिला अस्पताल में पहले अंगूठा स्कैन करने वाली बायोमेट्रिक मशीन लगाई गई थी। करीब छह माह पहले मशीन के खराब होने पर बंद कर दिया गया था। ऐसे में अब सरकार की ओर से बायोमेट्रिक हाजरी सिस्टम लागू करने के लिए निर्देश जारी होने पर अब अत्याधुनिक बायोमेट्रिक हाजरी मशीन लगाई जा रही है।

पीएमओ के मुताबिक 15 फरवरी से बायोमेट्रिक मशीन से हाजरी की व्यवस्था शुरू होगी। डॉक्टर्स नर्सिंग स्टाफ के लिए अलग-अलग हाजरी मशीन लगाई जाएंगी। ओपीडी में कमरा नंबर 36 में डॉक्टर्स के लिए ट्रोमा सेंटर में नर्सिंग स्टाफ के लिए बायोमेट्रिक हाजरी मशीनें लगाई जाएंगी।

जिला अस्पताल में पहले बायोमेट्रिक मशीन में अंगूठा स्कैनर पर अज्ञात ने ब्लेड या किसी नुकीली वस्तु से स्क्रैच कर दिया था, जिस कारण मशीन खराब हो गई। ऐसे में अब रेटिना स्कैन मशीन लगाई जा रही है। गौरतलब है कि बायोमेट्रिक हाजरी लगाने के चार तरह के फंक्शन हैं। इसमें कार्ड स्कैन, फिंगर स्कैन, रेटिना स्कैन और पासवर्ड शामिल हैं। अधिकारियों के मुताबिक रेटिना स्कैन इसमें बेहतर तरीका साबित हो सकता है। इसलिए रेटिना स्कैन से बायोमेट्रिक हाजरी मशीन लगाने का निर्णय लिया है। खास बात है कि बायोमेट्रिक मशीन सीसीटीवी कैमरे की नजर में रहेंगी ताकि कोई मशीन से छेड़छाड़ करे तो पकड़ में जाए।

पीएमओ डॉ. एमपी शर्मा ने बताया कि सरकार की ओर से निर्देश मिलने के बाद अत्याधुनिक मशीन लगाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। बॉयोमेट्रिक मशीन मेडिकल रिलीफ सोसायटी फंड से लगाई जाएगी। यह काम 15 फरवरी तक पूरा कर लिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...