• Hindi News
  • National
  • सांसद बोहरा की फिर चली, शहर छोड़ गांव ढाणियों में काम कराएगा जेडीए

सांसद बोहरा की फिर चली, शहर छोड़ गांव-ढाणियों में काम कराएगा जेडीए

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जेडीएमें एक बार फिर सांसद रामचरण बोहरा की चल निकली है। करीब 6 महीने से चली रही लंबित मांगों पर जेडीसी वैभव गालरिया ने एक साथ करीब 10 करोड़ से ज्यादा के काम कराने की सैद्धांतिक स्वीकृति दे दी है। इसी सप्ताह ही संबंधित इंजीनियरों को तुरंत सांसद के कार्यों की फाइल तैयार करने को कहा गया है। इससे पहले जेडीए में बजट की कमी के चलते जनप्रतिनिधियों के लिए 3-4 करोड़ रुपए की बजट सीमा तय की गई थी। खास बात यह है कि तीन साल में जिन विधायक-एमपी की मांगों पर सर्वाधिक सुनवाई हुई, उनके काम को गालरिया ने प्राथमिकता में नहीं रखा था। बल्कि उन्होंने दुबारा जो गिने-चुने काम कराने की सिफारिश की, उनको भी रोक दिया। इसमें चौमूं, जमवारामगढ़ विधायक शामिल हैं। सांसद के जिन कार्यों पर सहमति दी है, उनमें कई तो सांगानेर और बगरू की गांव-ढाणियों में व्यक्ति विशेष के नाम से हैं। दूसरी ओर केंद्र में मंत्री और जयपुर ग्रामीण सांसद राज्यवर्धन सिंह की डिजायर पर साढ़े 3 करोड़ के कार्य ही मंजूर हुए हैं।

{खटीकों की ढाल फव्वारा सर्किल तक सीसी सड़क {जैन विहार कॉलोनी कजोड़ बोहरा के मकान से नेहरू नगर तक

{मुकुंदपुरा रोड भांकरोटा सेंट्रल एकेडमी स्कूल तक शिव मंदिर बासड़ी से पाड़ा वाले की ढाणी तक सड़क

सांगानेर

{जोतड़ा वाला गांव में गोविंदपुरा रोड से राजपूत भवन तक सड़क

{लकड़ा वाली ढाणी से रामस्वरूप यादव के मकान तक पूरी ढाणी तक सड़क

{ रामपुरा रोड से न्यू राजस्थान पब्लिक स्कूल देव नगर-बी होते हुए मंगलम आनंदा रोड तक सड़क

{सचिवालय विहार सचिवालय विहार विस्तार में सभी गलियों में 30 फीट चौड़ाई की सड़क

^सांसद ने आकर उनके यहां कुछ कार्यों को लेकर बात रखी थी। दूसरे जनप्रतिनिधियों के क्षेत्र में भी जरूरी कार्यों को प्राथमिकता पर रख रहे हैं। -वैभवगालरिया, जेडीसी

बगरू: गांवमोहनपुरा और पंचायत मोहनपुरा वाटिका में विभिन्न ढाणियों में सड़कें।

{डिग्गी रोड से केश्यावाला गांव वाया बोहरा गार्डन 2 किमी सड़क।

{मुहाना रोड अशोक विहार के सामने से तासिया, जोगियों की ढाणी गोकुल वाटिका होते हुए मुहाना रोड तक सड़क।

मैंने निजी काम तो कहे नहीं, जनहित के काम हैं

^सांगानेर-बगरूआदि में करीब 5-5 करोड़ के विकास कार्यों की मांग रखी थी, जिस पर जेडीए की सहमति हुई है। इसके अलावा विद्याधर नगर, सिविल लाइन्स और मालवीय नगर में भी कुछ कार्यों पर जेडीए तैयार हुआ है। मैं तो जनता के हित के कार्यों की मांग रखता हूं। निजी काम तो हैं नहीं। -रामचरणबोहरा, सांसद

यूडीएच मंत्री से नजदीकी, जेडीसी को भी सहमत किया

जेडीसीवैभव गालरिया से सांसद बोहरा का कुछ महीने तक तालमेल नहीं बनता दिखा। हालांकि बोहरा अपने कामों को लेकर लगातार जेडीए में पत्र व्यवहार करते रहे, कई बार जेडीसी से मिले। चार अक्टूबर को फिर देर शाम जेडीसी से मिलने पहुंचे। दूसरी ओर यूडीएच मंत्री श्रीचंद कृपलानी से भी बोहरा की नजदीकी है। 16 अक्टूबर को कृपलानी सांसद के आदर्श गांव दादिया में विकास कार्यों का शिलान्यास करने भी पहुंच रहे हैं।

कालीचरण-चतुर्वेदी ने सरकार से ली मंजूरी

स्वास्थ्यमंत्री कालीचरण सराफ के अलावा सामाजिक न्याय मंत्री अरुण चतुर्वेदी का क्षेत्र नगर निगम सीमा में है, जहां जेडीए ने काम कराने को मना किया तो दोनों ने सरकार से मंजूरी ली। इसके बाद जेडीए उनके क्षेत्रों में करीब 8 करोड़ (मालवीय नगर में साढ़े 4करोड़, सिविल लाइन्स में 3.5 करोड़) के काम कराएगा।

विधायकोंके कामों को प्राथमिकता नहीं

जमवारामगढ़विधायक जगदीश मीणा नायला की 10 किलोमीटर सड़क के लिए जनता के भारी रोष की दुहाई दे चुके। अब तक केवल इस पर सहमति बनी कि जेडीसी खुद मौका देखेंगे। चौमू विधायक रामलाल को उतनी प्राथमिकता नहीं है तो बस्सी, आमेर, सांगानेर विधायक भी बैकफुट पर हैं।

खबरें और भी हैं...