पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रहीस 95 देशों में महका चुके हैं राजस्थानी संगीत की खुशबू

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर. कभी फ्रांस के राष्ट्रपति निकोलस सारकोजी की पत्नी पूर्व मॉडल कार्ला ब्रूनी सहित सहित अनेक महिलाओं के साथ संबंधों को लेकर चर्चा में रहे अंग्रेजी के मशहूर गायक और अभिनेता मिक जैगर एक बार जब अपने जन्म दिन पर निजी हेलीकॉप्टर से लंदन से 70 मिनट का फासला तय कर फ्रांस पहुंचे तो केक के साथ ही एक "सरप्राइज' भी उनका इंतजार कर रहा था।
 
लॉएर नदी के किनारे के एक गांव पुसे-सुर-सीस के पास विशाल परिसर में बने उनके आवास "ला फोरशेट' के हेलीपैड पर उतरने के बाद मिक जैगर ने जब अपने महल में प्रवेश किया तो राजस्थानी मांड "केसरिया बालम आओ नी पधारो म्हारे देस' से उनका स्वागत हुआ। मिक जैगर को संगीत की इस महफिल का सरप्राइज उनके साथ 14 साल तक रही अंतरंग दोस्त फैशन डिजाइनर लॉरेन स्कॉट ने दिया। लॉरेन स्कॉट ने फ्रांस के अखबारों में "धोद' म्यूजिक ग्रुप के बारे में पढ़ा तो उसने जैगर के जन्मदिन के लिए इसे बुक कर लिया। सीकर के पास धोद गांव के रहीस भारती के "धोद' नाम से बने म्यूजिक ग्रुप ने जब जैगर के निवास पर मिनी ऑडिटोरियम में राजस्थानी गीत और घूमर नृत्य की धूम मचाई तो जैगर की जन्मदिन की पार्टी में आए मेहमान झूम उठे। मिक जैगर इतने रोमांचित हुए कि उन्होंने खुद वीडियो रिकॉर्डिंग शुरू कर दी। राजस्थानी रंग में रंगा यह सुरीला सफर कोई डेढ़ घंटे तक चला। 
 
विदेशों में राजस्थान के सांस्कृतिक राजदूत की भूमिका निभा रहे रहीस भारती के "धोद' म्यूजिक ग्रुप की खास बात ये है कि इनके कार्यक्रमों में राजस्थानी संगीत की खुशबू के साथ ही जहां शास्त्रीय संगीत की मीठी तानें होती हैं, वहीं "रॉक-एंड-रोल' की तेज बीट्स उनकी देसी रिदम से मिलकर एक नया नशा पैदा करती हैं। इस तिहरे फ्यूजन को लेकर यह ग्रुप पिछले 16 सालों में 95 देशों में लगभग 1100 कार्यक्रम दे चुका है। यानी हर साल लगभग 70 कार्यक्रम।
 
रहीस भारती बताते हैं कि उनका म्यूजिक ग्रुप बारहों महीने सक्रिय रहता है और एक साल या दो साल पहले बुकिंग हो जाती है। शुरू हुए नए साल 2017 में उनके स्पेन, इटली, फ्रांस, जर्मनी, स्वीडन, फिनलैंड के साथ ही मोरक्को में वहां के राजा के यहां कार्यक्रम देना पहले से ही तय है। पिछले साल अमेरिका के 35 शहरों और कनाडा के 15 शहरों में "धोद' समूह ने अपने कार्यक्रम दिए जिन्हें 70 दिन में लगभग साढ़े तीन लाख लोगों ने देखा। राजस्थानी संगीत का यह समूह लंदन में महारानी एलिजाबेथ के हीरक जयंती समारोह के साथ ही फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा होलांद के सामने भी कार्यक्रम दे चुका है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पेरिस यात्रा के दौरान भी भारतीय दूतावास के अनुरोध पर "म्यूजियम ऑफ लॉव्रे' में करीब दस हजार लोगों की उपस्थिति में "धोद' ग्रुप ने राजस्थानी संगीत से सजा दिलकश कार्यक्रम पेश किया। 
 
बीते वर्ष जून माह में पोलैंड में हुए एक समारोह में धोद ग्रुप को प्रतिष्ठित पोलिश ग्रेमी अवार्ड दिया गया। धोद ग्रुप के इस कार्यक्रम में उस्ताद लियाकत अली खां ने सारंगी बजाई थी। अमेरिका के कैलीफोर्निया में "सिलिकॉन वैली' पुरस्कार और रोमानिया का नेशनल अवार्ड भी इस ग्रुप को मिल चुका है। ग्रीस में 2004 में हुए ओलंपिक खेलों में भी धोद ग्रुप अपना कार्यक्रम दे चुका है। रहीस भारती के नेतृत्व में विदेशों में राजस्थानी संगीत की खुशबू फैला रहे धोद ग्रुप में 25 कलाकार हैं। जिनमें संजय खान (लीड सिंगर), अमृत हुसैन (तबला), कौशल राणा (भवई), चंदा सपेरा (नृत्य), आरिफ खान (खड़ताल) और टीपू खां व बाबू खां (गायन) प्रमुख हैं। पिछले 16 वर्षों से फ्रांस का कोर्सिका द्वीप रहीस भारती का ठिकाना है और अलग-अलग देशों में जाकर वह राजस्थानी संगीत का परचम फहरा रहे हैं। 
 
जयपुर में आए फ्रांसीसी युवक ने दिया था पेरिस का पहला न्यौता
 
जयपुर में उनके घर पर एक फ्रेंच लड़का जाविया उनके पिता उस्ताद रफीक मोहम्मद से तबला सीखने आता था। उसने एक दिन रहीस के सामने प्रस्ताव रखा कि फ्रांस के स्कूल-कॉलेजों में उसे कार्यक्रम का मौका दिला सकता है। रहीस अपना तबला लेकर इस लड़के के साथ फ्रांस के कोर्सिका पहुंच गया और उसके घर पर रुका। अगले दिन वह कोर्सिका की सड़कों पर निकला तो एक पत्रकार युवती स्टेफनी से उसकी मुलाकात हो गई।
 
उसने अपने फ्रेंच अखबार "कोरसे-मेटिन' में उसकी फोटो सहित एक रिपोर्ट छापी कि किस तरह एक भारतीय तबलावादक गर्मी की छुटि्टयों में कोर्सिका आया हुआ है। यह वर्ष 2000 की बात है। इससे रहीस का मेजबान ने नाराज हो उसे घर से निकाल दिया। रहीस ने एक रात कब्रिस्तान में बिताई। अगले दिन उसने अखबार की रिपोर्टर को उसका विजिटिंग कार्ड देखकर फोन किया। रिपोर्टर ने अपने एक मित्र के यहां एक महीने के लिए रहने की व्यवस्था कर दी। एक दिन पब में कुछ संगीतकारों ने अखबार में छपी फोटो के कारण रहीस को पहचान लिया और एक कार्यक्रम में तबला बजाने का आमंत्रण दिया। इसके बाद रहीस ने मुड़कर नहीं देखा।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें