डिप्टी डायरेक्टर ने रिश्वत में मांगी अस्मत, कहा- नहीं तो तबादला कर दूंगा

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर/ कुचामन सिटी। कुचामन सिटी में तैनात पशुपालन विभाग के डिप्टी डायरेक्टर परसराम बेंदा को अधीनस्थ महिला कर्मचारी से अस्मत मांगने के आरोप में एसीबी ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी डिप्टी डायरेक्टर ने महिला कर्मचारी का वेतन स्थिरीकरण करने की एवज में अस्मत मांगी थी।

एसीबी की टीम ने परसराम के पास से आपत्तिजनक चीजें भी बरामद की हैं। डिप्टी डायरेक्टर को गिरफ्तार करने के बाद एसीबी की टीम उसे अजमेर ले गई। एसीबी आईजी स्मिता श्रीवास्तव ने बताया कि गिरफ्तार डिप्टी डायरेक्टर परसराम बेंदा (58) नागौर के डीडवाना का रहने वाला है।

महिला दलित है, इसलिए परसराम के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत भी मुकदमा दर्ज किया गया है। पशुपालन विभाग में तैनात महिला कर्मचारी ने गुरुवार को एसीबी को शिकायत की थी।

एसीबी के सत्यापन ने मामला सही निकला। इसके बाद एसीबी ने कार्रवाई की। देर रात तक परसराम के डीडवाना स्थित घर की तलाशी चल रही थी।

डेढ़ साल बाद था रिटायरमेंट

बेंदा के रिटायरमेंट में डेढ़ साल बचा है। परसराम पशुपालन मंत्री हरजीराम बुरडक के करीबी हैं। हाल ही मंत्री ने उन्हें आउट ऑफ टर्म प्रमोशन दिलवाया था।

आगे की स्लाइड्स में जानें पूरा मामला