• Hindi News
  • Employees Comes Out Against Chief Engineer Of Water Supply

चीफ इंजीनियरों के खिलाफ जलदाय कर्मचारी लामबंद

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर

जलदाय विभाग के कर्मचारियों को निलंबित और गिरफ्तार करने की मांग को लेकर अन्य इंजीनियरों के साथ दो चीफ इंजीनियरों के धरने पर बैठने से कर्मचारियों व इंजीनियरों के बीच एक सप्ताह से चल रहा विवाद शनिवार को और गहरा गया। कर्मचारियों ने पूरे मामले को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री से शिकायत करने की प्लानिंग की। वे मुख्यमंत्री और जलदाय मंत्री से दोनों चीफ इंजीनियरों को बर्खास्त करने की मांग करेंगे। जलदाय विभाग के इतिहास में पहली बार चीफ इंजीनियर स्तर के अफसर कर्मचारियों के खिलाफ धरने में शामिल हुए हैं।


कर्मचारियों का कहना है कि जब आला अधिकारी ही कर्मचारियों के खिलाफ धरने पर बैठेंगे तो किससे न्याय की उम्मीद की जा सकती है। ऐसे में उन्हें विभाग के मुखिया पद पर रहने का कोई हक नहीं। दूसरी ओर धरने में शामिल चीफ इंजीनियर (प्रशासन) रामराज मीणा ने बताया कि हम इंजीनियर होने के नाते इंजीनियर के साथ हैं। हम धरने पर बैठे थे। चीफ इंजीनियर (ग्रामीण ) उमेश धींगड़ा ने बताया कि मैं धरने पर गया था, लेकिन नेतृत्व नहीं किया।


यह है मामला: विभाग के इंजीनियरों ने एईएन से मारपीट के आरोपी कर्मचारियों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर गुरुवार को जल भवन पर धरना दिया। धरने में दो चीफ इंजीनियरों के साथ एडिशनल चीफ इंजीनियर (ग्रामीण) भी शामिल हुए।