• Hindi News
  • Jaipur Development Authority, Golf Club, Polo Club, Jaipur News

जेडीए ने आज तक नहीं वसूली गोल्फ और पोलो क्लब जमीन की लीज

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर। करीब 5 हजार करोड़ रु. की जमीन पर कई साल से रामबाग गोल्फ क्लब और पोलो क्लब का नियंत्रण है, लेकिन जेडीए ने नौ साल से एक रु. भी लीज नहीं वसूली। अब नगर निगम ने गोल्फ क्लब के खाते सीज कर यूडी टैक्स का कुर्की नोटिस दिया है तो मंगलवार से जेडीए भी वर्तमान दर से लीज राशि की गणना करवाकर नोटिस देने की तैयारी कर रहा है। वहीं दोनों क्लब के अधिकारियों ने सवाल उठाया है कि जब जमीन पर मालिकाना हक जेडीए का है तो टैक्स या लीज वसूली उनसे क्यों?

तीन साल पहले 7 लाख रु. तय हुई थी लीज राशि : जेडीए इन दोनों क्लबों से लीज राशि वसूलने के लिए कई बार गणना करवा चुका है, लेकिन सिर्फ नोटिस ही दिए गए। वर्ष 2004 में तय हुआ था कि सेटलमेंट के अनुसार जमीन पर कब्जा और नियंत्रण भले गोल्फ क्लब और पोलो क्लब का रहेगा, लेकिन लीज राशि जेडीए वसूल करेगा। उसके बाद से अब तक आधा दर्जन बार कवायद हुई। गोल्फ क्लब प्रबंधन ने लीज राशि का मामला 2009 में सरकार के सामने रखा, तो उसमें कुछ रियायत दी गई। क्लब सदस्यों के अनुसार, तीन साल पहले तय हुआ था कि जेडीए सालाना 7 लाख रु. लीज वसूलेगा, लेकिन उसके बावजूद न तो गोल्फ क्लब ने लीज चुकाई और न जेडीए ने सख्ती की।

आज से फिर गणना कर तैयार करेंगे नोटिस

जेडीए के जोन-1उपायुक्तखान मोहम्मद ने बताया कि लीज की गणना पहले भी की गई, लेकिन राशि नहीं वसूली गई। मंगलवार को नए सिरे से अकाउंटेंट से गणना करवाएंगे। उसके बाद दोनों क्लबों को नोटिस दिए जाएंगे। दूसरी तरफ नगरीय विकास विभाग के आला अधिकारियों ने भी जेडीए को इशारा कर दिया है कि जब निगम यूडी टैक्स वसूल रहा है तो जेडीए लीज वसूलने में कोताही क्यों कर रहा है।

गोल्फ क्लब भवन निर्माण के समय हुआ था विवाद

क्लब की जमीन पर बिल्डिंग निर्माण का मुद्दा मार्च 2008 में विधानसभा में उठा था। जेडीए ने जवाब दिया था कि जमीन पर मालिकाना हक उसका है, लेकिन यदि क्लब प्रबंधन निर्माण करवाता है तो उसका खर्च क्लब ही वहन करेगा। लेकिन एक विवाद हो गया था कि भवन के गेट की दिशा भवानी सिंह लेन की तरफ क्यों रखी गई जबकि भगवानदास रोड पर भवनों की दिशा इसी रोड की तरफ की गई है।

जमीन का क्षेत्रफल

रामबाग गोल्फ क्लब
85.52 एकड़ (करीब 225 बीघा)

पोलो क्लब
22.11 एकड़ (करीब 60 बीघा)

क्लबों से जमीन ले सरकार

सेंट्रल पार्क बचाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष योगेश यादव का कहना है कि दोनों क्लबों का जेडीए के साथ अभी तक एमओयू ही नहीं है, तो उनको भवानी सिंह लेन पर पब्लिक प्रोपर्टी पर अतिक्रमण करने का अधिकार किसने दिया? उन्होंने सरकार व जेडीए से मांग की कि पूरी जमीन को दोनों क्लबों के कब्जे से मुक्त करके अपने पजेशन में लेना चाहिए।

सेटलमेंट फाइनल नहीं

गोल्फ क्लब के कैप्टन विक्रमसिंह का कहना है कि राज्य सरकार, पोलो क्लब, रामबाग गोल्फ क्लब के बीच सेटलमेंट अभी तक फाइनल नहीं हुआ है। सेटलमेंट फाइनल कर जेडीए द्वारा लीज राशि लिए जाने की बात कई साल से चल रही है, लेकिन अभी तक अंतिम निणर््य नहीं हुआ है।