पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मास्साब ही नहीं हैं, हमें तो टीसी चाहिए

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर. निर्वाचन विभाग की ओर से शिक्षकों की बीएलओ में ड्यूटी लगाए जाने से शिक्षा विभाग के प्रवेशोत्सव कार्यक्रम सफल नहीं हो पा रहे हैं। स्कूलों में नए प्रवेश तो हो नहीं रहे, बल्कि जो बच्चे हैं, वे भी टीसी मांग रहे हैं। शनिवार को शहर के प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूलों के निरीक्षण के दौरान सामने आया कि अधिकतर बच्चे स्कूल में शिक्षक नहीं होने के कारण टीसी मांग रहे हैं। राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल इंदिरा कॉलोनी पानीपेच में अब तक 20 बच्चे टीसी के लिए आवेदन कर चुके हैं। सभी बच्चों की टीसी के आवेदन में एक ही बात कही गई है कि स्कूल के शिक्षकों की बीएलओ में ड्यूटी लगा दी गई। अब हमें पढ़ाने वाला कोई नहीं। गत वर्ष भी इस वजह से हमारा कोर्स पूरा नहीं हो पाया था। हम दूसरे स्कूल में पढ़ना चाहते हैं। हमें टीसी दी जाए। अतिरिक्त ब्लॉक प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी (जयपुर पश्चिम) विक्रम सिंह स्कूल का निरीक्षण करने पहुंचे तो एक साथ ही 5 बच्चे टीसी के लिए आवेदन करने आ गए। सिंह ने बताया कि यहां 150 बच्चे हैं और स्कूल के 7 में से 5 शिक्षकों की ड्यूटी बीएलओ में लगी है। एक साथ इतने बच्चों की टीसी मांगने की जानकारी उच्चाधिकारियों को दे दी गई। यहां भी यहीं स्थिति आई सामने पुलिस अकादमी के उच्च प्राथमिक स्कूल के 7 में से 2 शिक्षकों की ड्यूटी बीएलओ में लगा दी गई और एक शिक्षक रिटायर हो गया। यहां 25 से अधिक बच्चे टीसी के लिए आवेदन कर चुके हैं। अमानीशाह नाला किशनबाग के प्राथमिक स्कूल के तीनों शिक्षकों की ड्यूटी बीएलओ में लगा दी गई। यहां 15 बच्चे टीसी के लिए आवेदन कर चुके हैं। हथरोई और द्वारकापुरी के उच्च प्राथमिक स्कूलों के भी यही हाल है। निरीक्षण में बच्चों के टीसी मांगने की बात सामने आई है। यह गंभीर मामला है, सोमवार को कलेक्टर को इस परेशानी से अवगत कराया जाएगा, ताकि इसका वैकल्पिक समाधान निकल सके। शिवचरण मीणा, डीईओ (प्रारंभिक)

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

और पढ़ें