• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • पांच घंटे बाद भी नहीं पहुंचे वन विभाग के कर्मचारी, घायल हिरण ने दम तोड़ा

पांच घंटे बाद भी नहीं पहुंचे वन विभाग के कर्मचारी, घायल हिरण ने दम तोड़ा

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
डेरियाके बस स्टेशन के पास आवारा श्वानों ने हिरण को घायल कर दिया। वन्यजीव प्रेमियों ने इसकी सूचना वन विभाग बालेसर को दी मगर पांच घंटे इंतजार के बाद भी कोई नहीं पहुंचा तो वे उसको चामू चौकी लेकर गए जहां पर हिरण ने दम तोड़ दिया। उसके बाद चामू चौकी का एक कर्मचारी आया। शुक्रवार को सुबह छह बजे डेरिया बस स्टैंड के पास आवारा श्वानों ने एक हिरण को घायल कर दिया। वन्यजीव प्रेमी टीकमसिंह भाटी ने इसकी सूचना वन विभाग कार्यालय बालेसर को दी। सुबह दस बजे तक वन्यजीव प्रेमी घायल हिरण को लेकर वन विभाग की टीम का इंतजार करते रहे। मगर कोई नहीं आया तो वे हिरण को लेकर वन विभाग की चामू चौकी पर लेकर गए। मगर वहां चौकी में कोई नहीं था। करीब 11 बजे के आसपास घायल हिरण ने दम तोड़ दिया। इसके बाद वन विभाग में भालू राजवां गांव में कार्यरत कर्मचारी भींव भारती मौके पर पहुंचे तब तक हिरण मर चुका था। पांच घंटे इंतजार करने के बाद वन विभाग की टीम के नहीं पहुंचने से वन्यजीव प्रेमियों में रोष व्याप्त हैं। इस मौके राणीदान सिंह, खेतसिंह, मनोहरसिंह देवड़ा, सवाईसिंह, भोमसिंह, रावलसिंह भाटी,श्रवणसिंह भाटी, कानसिंह तेना, जोराराम, बंशीलाल आदि ग्रामीणों ने रोष प्रकट किया है।

खबरें और भी हैं...