पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jodhpur
  • अल्लाह की राह में कुर्बानी आज, देर रात तक चलती रही खरीदारी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अल्लाह की राह में कुर्बानी आज, देर रात तक चलती रही खरीदारी

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ईद-उल-अजहा की मुख्य नमाज ईदगाह में सुबह साढ़े आठ बजे

जोधपुर|अल्लाहकी राह में कुर्बानी की याद दिलाने वाला त्योहार ईद-उल-अजहा मंगलवार को मनाया जाएगा। शहर खतीब काजी मोहम्म्द तय्यब ने बताया कि मुख्य नमाज जालोरी गेट स्थित ईदगाह में सुबह 8.30 बजे अदा की जाएगी। इसके अलावा शहर की तमाम मस्जिदों और इबादतगाहों में भी नमाज अदा की जाएगी। इसके लिए सभी जगह इंतजाम किए गए हैं।

देररात बकरों की खरीदारी चलती रही : कुर्बानीके लिए बकरों की खरीदारी देर रात तक चलती रही। उम्मेद स्टेडियम क्षेत्र में लगाई गई अस्थाई बकरामंडी में खरीदारों की भीड़ लगी रही। आखलिया चौराहे पर भी लोगों ने खरीदारी की।

पांचवेंरूक्न से जुड़े वाकये का प्रतीक : हजरतइब्राहीम खलीलुल्लाह की सुन्नत और इस्लाम के पांचवें रूक्न से जुड़े वाकये की याद ताजा करने वाले त्योहार ईद-उल-अजहा पर कुर्बानी देने की परंपरा है। इब्राहीम खलीलुल्लाह की अल्लाह की रजा और हुक्म की तामील में अपने बेटे इस्माइल को कुर्बान करने पर आमादा हो जाने के प्रतीक के रूप में मनाए जाता है। करीब पांच हजार साल पहले हजरत इब्राहीम अलैहिस्स्लाम ने अपने बेटे इस्माइल अलैहिस्स्लाम को अल्लाह के हुक्म के मुताबिक कुर्बान करना चाहा, मगर रब ने बाप-बेटे के जज्बे और उनकी सच्ची मोहब्बत को कबूल करते हुए जन्नत से दुंबा भेज कर कुर्बानी करवाई और हजरत इस्माइल अलैहिस्स्लाम को फरिश्ते के जरिए बचा लिया। वह सिर्फ रब का एक इम्तिहान था, जिसमें हजरत इब्राहीम और हजरत इस्माइल कामयाब हुए। खुदा ने इस सच्ची मोहब्बत और फरमान बरदारी को कयामत तक जिंदा रखने के लिए उम्मते मुस्लिम पर कुर्बानी को वाजिब फरमा दिया। इसका मकसद हर मुसलमान खुदा की राह में दी जाने वाली इस बेमिसाल कुर्बानी को याद रखे और खुदा के हुक्म पर हर कुर्बानी देने के लिए हर वक्त तैयार रहे। साल में एक मर्तबा कुर्बानी का हुक्म देकर मुसलमान पर कुर्बानी वाजिब फरमाई, ताकि मुसलमानों में रब के हुक्म पर झुकने और उसके हुक्म की फरमान बरदारी का जज्बा सलामत रहे।

मुस्लिमबहुल इलाकों में रही रौनक : इसत्योहार के लिए सोमवार को मुस्लिम बहुल इलाकों में रौनक रही। कुर्बानी का वक्त जिलहिज की नमाज के साथ शुरू होकर जिलहिज को सूर्यास्त से पहले तक का है। गरीब, मोहताज और पड़ोसियों का पूरा ख्याल रखने का फरमाया, ताकि हर मुसलमान इंसानियत की मिसाल पेश कर सके, यही कुर्बानी का पैगाम है।

उम्मेद स्टेडियम क्षेत्र में लगाई गई अस्थाई दुकानों पर देर रात तक बकरों की खरीदारी चलती रही।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें