• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • दिवाली इफैक्ट : 12 19 अक्टूबर तक यूपी, बिहार एमपी की ट्रेनों में नो रूम

दिवाली इफैक्ट : 12-19 अक्टूबर तक यूपी, बिहार एमपी की ट्रेनों में नो रूम

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोचिंग छात्रों उनके परिजनों को हो रही सबसे ज्यादा परेशानी

जनशताब्दी में आज लगेगा एक्स्ट्रा कोच

कोटा से पटना के लिए स्लीपर कोच की वेटिंग 400 से ज्यादा

ट्रांसपोर्ट रिपोर्टर | कोटा

दिवालीके कुछ ही दिन बचे हैं और लंबी दूरी की ट्रेनों में नो रूम की स्थिति हो गई है। यूपी, बिहार, जबलपुर की तरफ जाने वाले यात्रियों को कन्फर्म टिकट मिलना मुश्किल हो गया है। कोटा में विभिन्न राज्यों से बच्चे कोचिंग करने आते हैं। उनके साथ ही उनके परिवार के सदस्य भी उनकी सारसंभाल के लिए आते हैं। दूसरे राज्यों के कई लोग कोटा आसपास के क्षेत्रों में नौकरी करते हैं। वे त्यौहार मनाने अपने घरों को जाना चाहते हैं। कई लोग तो पहले से प्लान बनाकर यात्रा की तारीख तय कर लेते हैं। ट्रेनों का आरक्षित टिकट ले लेते हैं। पहले आरक्षण करवाने पर यात्रियों को कन्फर्म टिकट मिल जाता है, लेकिन देरी से यात्रा का प्लान करने वाले यात्री रेलवे आरक्षण केन्द्र पर पहुंच रहे हैं तो या तो उन्हें वेटिंग का टिकट मिलता है या नो रूम की स्थिति होने पर वेटिंग टिकट मिलना भी मुश्किल हो रहा है।

दीवाली से पहले पटना, गोरखपुर, बनारस, इलाहाबाद, मुजफ्फरपुर, जबलपुर की ओर जाने वाली ट्रेनों में या तो वेटिंग लंबी है या नो रूम कंडीशन हो चुका है। सीनियर डीसीएम विजय प्रकाश ने बताया कि दिवाली से पहले पटना के लिए स्पेशल ट्रेन चलाए जाने का प्रस्ताव है। इसके बाद छठ के मौके पर भी स्पेशल ट्रेन चलाए जाने का प्रस्ताव पश्चिम मध्य रेलवे के मुख्यालय जबलपुर भेजा गया है।

खबरें और भी हैं...