मां ने पीटा तो किशोरी करौली से कोटा आई

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
आरपीएफ ने किशोरी को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द किया

ट्रांसपोर्ट रिपोर्टर | कोटा

मांने पिटाई की तो करौली के सलेमपुर की एक किशोरी ट्रेन में सवार होकर कोटा रेलवे स्टेशन पहुंच गई। रेलवे सुरक्षा बल कोटा ने उसे थाने मे लाकर बाद में चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया। किशोरी के मामले में उसके पिता ने करौली महिला थाने में रिपोर्ट दर्ज करवा रखा है। संबंधित थाने की पुलिस कोटा पहुंच गई है।

करौली के सलेमपुर निवासी एक किशोरी शुक्रवार रात लगभग 11 बजे कोटा के प्लेटफार्म नंबर दो पर रेलवे पुल के पास अकेली बैठी थी। उस तरफ से आशीष भारद्वाज एडवोकेट प्लेटफार्म पर आए तो उन्हें किशोरी अकेली बैठी दिखी। उन्होंने आरपीएफ पोस्ट पर सूचना दी। ऐसे में आरपीएफ पोस्ट प्रभारी मनीष शर्मा ने एसआई अनिल महिला कांस्टेबल कमला चौधरी को मौके पर भेजा। कमला चौधरी ने किशोरी से पूछताछ की, लेकिन पहले तो वो कुछ भी नहीं बता रही थी। बाद में उसे आरपीएफ पोस्ट पर लाया गया। उसकी काउंसलिंग की गई। तब उसने नाम, पता, बताया घटनाक्रम बताया। आरपीएफ को किशोरी ने बताया कि मेरी मां ने किसी बात को लेकर मारपीट की थी। इसी कारण नाराज होकर मैं निकल गई। बाद में पता लगा कि किशोरी के पिता ने करौली महिला थाने पर मुकदमा दर्ज करवा रखा है। संबंधित पुलिस को सूचना दी गई। बाद में किशोरी को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया गया।

खबरें और भी हैं...