गिनीज और लिम्का बुक में दर्ज है इस लड़की का नाम, सलमान से भी है कनेक्शन

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोटा.  खनकती आवाज में आशिकी-2 फिल्म का गाना 'तू ही मुझको बता दे...चाहूं या ना' और शरारती सुर में बजरंगी भाईजान में 'कुकुडू कूं' जैसे बेहतरीन गाने गाकर सिंगर पलक मुछाल ने कोटा के स्टूडेंट्स को मंत्र-मुग्ध कर दिया। यहां ऐलन इंस्टीट्यूट और हॉस्टल एसोशिएशन ने यह प्रोग्राम आयोजित करवाया था। कम उम्र में ही बॉलीवुड में अच्छा मुकाम हासिल करने वालीं पलक अपनी कमाई से हार्ट की बीमारी से ग्रस्त बच्चों का इलाज कराती हैं। चैरिटी के पैसों से अब तक एक हजार से ज्यादा ऑपरेशन करा चुकीं पलक का नाम गिनीज रिकॉर्ड और लिम्का बुक तक में दर्ज हो चुका है। जानिए, प्लेबैक सिंगर का सुपरस्टार सलमान से है क्या है कनेक्शन...
 
- मध्य प्रदेश के इंदौर की रहने वालींं पलक ने चार साल की उम्र से अपने सिंगिंग करियर की शुरुआत कर दी थी।
- पलक मुछाल के अंदर समाज सेवा की भावना इस कदर है कि वे अब तक 1057 गरीब बच्चों के हार्ट ऑपरेशन करवा चुकी हैं
- उनका लक्ष्य इस साल इस संख्या को 2 हजार तक पहुंचाने का है। 
- पलक मुंछाल हार्ट फाउंडेशन में इस समय देश के करीब 436 बच्चे वेटिंग लिस्ट में हैं।
- इसकी शुरुआत उन्होंने सबसे पहले इंदौर से ही की थी। 
- पलक ने आठ साल के मासूम लोकेश के ऑपरेशन के लिए गाना गाकर 55 हजार रुपए जुटाए थे।
- चैरिटी शो में सिंगिंग करके 15 साल में पलक ने 4 करोड़ रुपए का फंड इकट्ठा करने का रिकॉर्ड बनाया है। 
 
इसलिए है सलमान से खास रिश्ता
- दरअसल, बॉलीवुड एक्टर सलमान खान का जन्म इंदौर में हुआ था और पलक मुछाल भी इसी शहर की हैं। 
- पलक का छोटा भाई पलाश भी बॉलीवुड में म्यूजिक डायरेक्टर है।
- वे सलमान खान को अपना गॉडफादर मानती हैं।
- पलक अब तक सलमान की 'प्रेम रतन धन पायो', 'एक था टाइगर', 'बजरंगी भाईजान' 'जय हो' फिल्म में गाने गा चुकी हैं।
- इसके अलावा एमएस धोनी, आशिकी, रुस्तम, गब्बर इज बै, हीरो, मिकी वायरस, इश्क के परिंदे, बाहुबली राज रीबूट समेत अन्य फिल्मों में गाए गए पलक के गाने काफी चर्चित हैं।  
- सिंगर पलक मुछाल महज 23 साल के उम्र ही 17 भाषाओं में 100 से ज्यादा गाने गा चुकी हैं। 
 
गिनीज बुक में नाम दर्ज 
- गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड और लिम्का बुक में भी उनका नाम दर्ज हो चुका है। 
- उनको पद्मश्री अवॉर्ड देने पर ही विचार किया गया था, लेकिन कम उम्र के कारण यह संभव न हो सका।
- पल मुछाल फाउंडेशन में इस समय देश के करीब 436 बच्चे ऑपरेशन की वेटिंग लिस्ट में हैं। 
- यह फाउंडेशन भारत के अलावा पाकिस्तान और थाईलैंड  तक के बच्चों के हार्ट ऑपरेशन करवा चुका है। 
 
मिल चुके इतने सम्मान
- वर्ष 2000 में नेशनल चाइल्ड अवॉर्ड
- 2005 में राजीव गांधी अवॉर्ड
- 2011 में वीरांगना अवॉर्ड दिया
 
आगे की स्लाइड्स में देखिए प्लेबैक सिंगर पलक मुछाल के फोटोज.... 
खबरें और भी हैं...