पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • मान्यता नहीं फिर भी निजी स्कूल संचालन करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

मान्यता नहीं फिर भी निजी स्कूल संचालन करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिलेभरमें अब ऐसे समस्त गैर राजकीय विद्यालय जो आरटीई मापदंड के अनुसार मान्यता प्राप्त नहीं हैं, साथ ही जो तय मान्यता से उच्च स्तर की कक्षाओं का संचालन कर रहे है। अब उनके विरुद्ध राज्य सरकार के निर्देशानुसार अब शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए शुक्रवार को प्रारंभिक जिला शिक्षा अधिकारी सतीश कुमार गुप्ता ने जिलेभर के सभी बीईईओ और पीईईओ के लिए एक आदेश जारी कर उनके परिक्षेत्र के समस्त गैर राजकीय विद्यालयों का अगले दिन दिवस के भीतर निरीक्षण कर कार्यालय को सूचित करने के आदेश दिए है।

आदेशों में बताया कि जिलेभर में गैर राजकीय विद्यालय जिनके पास आरटीई की मान्यता प्राप्त नहीं है, या ऐसे विद्यालय जो मान्यता से उच्च स्तर की वर्तमान में कक्षाओं का संचालन कर रहे है, उनके विरुद्ध राज्य सरकार के निर्देशानुसार सख्त कार्रवाई की जावे। उन्हें कहा है कि निरीक्षण के दौरान जो विद्यालय आरटीई के नियमों को पूरा नहीं कर रहा है, या बगैर मान्यता संचालित हो रहे है, उन्हें नोटिस जारी कर तत्काल बंद करने के निर्देश जारी किए जाए।

पोशाक,किताबें सहित जूते-मौजे बेचने वालों पर होगी कार्रवाई

बीईईओऔर पीईईओ के निरीक्षण के दौरान क्षेत्र के जिन गैर राजकीय विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को विद्यालय अपने स्तर पर ही पाठ्य पुस्तकें, टाई, पोशाक, बैग, जूते-मौजे, स्कूल विद्यालय बैज विक्रय करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। साथ ही निरीक्षण में ये भी जांच की जाएगी कि विद्यालय संचालक द्वारा फीस निर्धारण कमेटी का गठन किया या नहीं। कमेटी में विद्यालय एवं अभिभावकों की कमेटी होनी चाहिए। ऐसे विद्यालय जिनके पास आरटीई की मान्यता नहीं है और विद्यालय संचालित हो रहा हैं उन्हें जांच अधिकारियों द्वारा तत्काल रूप से बंद करवाना होगा।

खबरें और भी हैं...