• Hindi News
  • National
  • कोलिया में शहीद सुरेश की याद में कवि सम्मेलन

कोलिया में शहीद सुरेश की याद में कवि सम्मेलन

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कीर्तिचक्र विजेता शहीद सुरेश जेवलिया की स्मृति में कविता पाठ और सांस्कृतिक कार्यक्रम हुआ। मुख्य अतिथि डॉ. सोहन चौधरी और कर्नल नंदकिशोर ढाका थे। रात्रिकालीन कबड्डी प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरण भी हुआ। शौर्य चक्र विजेता विजयपाल सिंह ने कहा कि बर्फीली चोटियों और सीमाओं पर बलिदान देने वाले अमर शहीदों के बलिदान की मधुर सुगंध से भारत भूमि हमेशा सुवासित है।

उन्होंने कहा कि बर्फीली चोटियों पर अपनी जान की परवाह किए बिना देश के लिए बलिदान देने वाले शहीदों में से एक वीर सुरेश जेवलिया भी थे। जिनका जन्म 4 जुलाई 1980 को नागौर जिले की डीडवाना तहसील के गांव कोलिया में हुआ। उनके पिता सुखदेव जेवलिया माता गीता देवी हैं। स्वामी खेमदास महाराज के सान्निध्य में देर रात तक कवियों ने अपनी रचनाओं से पड़ोसी देश को चेताया। कवि मोबसिंह ने देश भक्ति, मुकेश कुमार ने ओज की, संपत प्रजापति ने हास्य और असलम देशभक्त ने वीररस की कविताओं का पाठ किया। निकिता रेणीवाल, विक्की सैनी, सुरेश और मुकेश ने रंगारंग प्रस्तुति दी। श्रोताओं के बीच विभिन्न संस्थाओं के बालकों ने भी सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। कार्यक्रम मे कबड्डी की विजेता बांडोलाई ढाणी को 11000 नगद ट्रॉफी और उपविजेता चौमू को 7500 नगद ट्रॉफी के अलावा सर्वश्रेष्ठ रीडर कैचर और डिफेंडर का पुरस्कार दिया गया। कार्यक्रम को कर्नल नंदकिशोर ढाका, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी मदनसिंह जोधा, विजयपाल सिंह ने भी संबोधित किया। निर्णायकों और कार्यकर्ताओं को भी सम्मानित किया गया। संचालन घीसाराम ने किया।

ऑपरेशन रक्षक: घायल हुए, 3 आतंकियों को मारा

आयोजन

खबरें और भी हैं...