पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • साबला में कहीं भी फाल्ट आएगा तो एक साथ बंद होगी पूरी तहसील की बिजली सप्लाई

साबला में कहीं भी फाल्ट आएगा तो एक साथ बंद होगी पूरी तहसील की बिजली सप्लाई

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
साबला| साबलातहसील के 20 ग्राम पंचायत में कहीं भी फाॅल्ट आने के बाद पूरी तहसील क्षेत्र के गांवों की बिजली सप्लाई बंद की जाती हैं। ऐसे में साबला तहसील के 18 हजार उपभोक्ताओं को प्रतिदिन आठ से दस बार ट्रिपिंग की समस्या का सामना करना पड़ता है। साबला तहसील को अभी तक रिंग सिस्टम में नहीं जोड़ा गया हैं। इससे तहसील के सभी गांवों को बिजली कटौती से परेशान होना पड़ता है।

साबला तहसील में डिस्कॉम की ओर से सहायक अभियंता कार्यालय खोला गया है। सहायक अभियंता कार्यालय को बिजली आसपुर और पालोदा के 132 केवी जीएसएस से सप्लाई मिलती है। इसी सप्लाई में से साबला तहसील के सागोट, पिंडावल, रीछा और निठाउवा में 33 केवी जीएसएस जुड़े हुए हैं। इन जीएसएस के लिए आसपुर से सप्लाई दी जाती है। इन 33 केवी जीएसएस को एक साथ जोड़कर सप्लाई देने से आए दिन फाल्ट आने पर पूरी लाइन बंद कराई जाती है।

एकसाथ बंद होती है 18 हजार उपभोक्ता की सप्लाई

सबडिविजन साबला के एईएन कैलाश जाजोरिया ने बताया कि सागोट, पिंडावल, रीछा और निठाउवा जीएसएस को एक ही 33 केवी लाइन से जोड़ा गया है। ऐसे में इन जीएसएस से जुड़े 18 हजार उपभोक्ता और 20 ग्राम पंचायत में कहीं भी फाल्ट आने पर पूरी 33 केवी की सप्लाई आसपुर से बंद करानी पड़ती है। साबला तहसील क्षेत्र को आसपुर 33 केवी की लाइन से जोड़ा गया है। जिससे कहीं भी फाल्ट आने पर पूरी लाइन बंद करनी पड़ती है। ऐसे में इन जीएसएस को रिंग सिस्टम में पालोदा के 132 केवी से नहीं जोड़ रखा है। जिसके कारण साबला तहसील के लोगों को परेशानी होती है।

^साबलातहसील क्षेत्र के चार जीएसएस को रिंग सिस्टम से नहीं जोड़ा गया है। ऐसे में कही भी फाल्ट आने पर पूरी 33 केवी लाइन आसपुर से बंद करानी पड़ती है। जिसके कारण बार-बार सप्लाई बंद होती है। कैलाशझाझोरिया, एईएन साबला।

खबरें और भी हैं...