पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • फिल्टर प्लांट की लाइन जोड़ी, 19 घंटे नहीं आया पानी

फिल्टर प्लांट की लाइन जोड़ी, 19 घंटे नहीं आया पानी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहरकी नई पेयजल योजना की पाइप लाइन को पाठेड़ा फिल्टर प्लांट से जोड़ने का कार्य बुधवार देर रात तक चलता रहा। इसके चलते गुरुवार को शहर में पानी की सप्लाई ठप रही। ऐसे में लोगों को हैंडपंप निजी ट्यूबवैल पर पहुंचकर पानी का जुगाड़ करना पड़ा।

राजस्थान अरबन इंफ्रास्ट्रक्चर डवलपमेंट प्रोजेक्ट (आरयूआईडीपी) की ओर से 31 करोड़ की शहरी जलप्रदाय योजना पर काम किया जा रहा है। इसके तहत पार्वती नदी की हीकड़ दह से शहर में अटरू रोड स्थित फिल्टर प्लांट तक 24 इंच पाइप लाइन बिछाई गई है। इस लाइन को पाठेड़ा में नवनिर्मित फिल्टर प्लांट से जोड़ा जाना था। इसे जोड़ने के लिए बुधवार सुबह आठ बजे से कार्य प्रारंभ किया गया। बुधवार रात करीब तीन बजे फिल्टर प्लांट की लाइन जोडऩे का कार्य पूरा हो सका। ऐसे मेंं करीब 19 घंटे तक शहर में पानी नहीं पहुंचने से सप्लाई की टंकियां खाली रहीं। इसके चलते गुरुवार सुबह टंकियों से होने वाली पानी की सप्लाई नहीं हो सकी। वहीं दिन और शाम के समय होने वाली पानी की सप्लाई भी प्रभावित रही। लोग दूरदराज स्थित हैंडपंप और ट्यूबवैल से पैदल, साइकिल, दुपहिया और तिपहिया वाहनों से पानी भरकर लाए।

90लाख लीटर पानी की होती है सप्लाई

जलदायविभाग के अनुसार शहर में 12 हजार 800 उपभोक्ताओं को नल से पानी सप्लाई किया जाता है। इसमें से सप्लाई के लिए हीकड़ दह से 78 लाख लीटर पानी अटरू रोड स्थित फिल्टर प्लांट तक पहुंचता है। वहीं विभिन्न स्थानों पर स्थित 12 ट्यूबवैल से 12 लाख लीटर पानी सहित कुल 90 लाख लीटर पानी की सप्लाई की जाती है। इसमें अलग-अलग स्थानों पर बनी 11 टंकियों में 46 लाख लीटर पानी भरा जाता है। इनसे बिजली चालू बंद के समय पानी की सप्लाई की जाती है।

नएफिल्टर प्लांट पर बिजली नहीं हुई चालू

जलदायविभाग सूत्रों के अनुसार पाठेड़ा स्थित फिल्टर प्लांट पर पानी सप्लाई की लाइन जोड़ दी गई। वहां बिजली सप्लाई की लाइन नहीं जोड़ी गई है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि पाठेड़ा में जीएसएस का निर्माण पूरा हो चुका है। यहां बिजली सप्लाई तीन-चार दिन में शुरू होने की उम्मीद है। बिजली सप्लाई होने के बाद फिल्टर प्लांट को चालू किया जाएगा।

210लाख लीटर का है फिल्टर प्लांट: शहरमें पानी की सप्लाई फिलहाल अटरू रोड स्थित फिल्टर प्लांट से की जाती है। यहां से दो जलशोधन संयंत्रों से प्रतिदिन 78 लाख लीटर पानी स्वच्छ