पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • जयकारे के साथ हजारों ने लगाई श्रद्धा की डुबकी

जयकारे के साथ हजारों ने लगाई श्रद्धा की डुबकी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कार्तिकमास की पूर्णिमा पर गुरुवार को जिले के पवित्र कुंडों, तालाबों और नदियों में श्रद्धा का सैलाब उमड़ पड़ा। हजारों की संख्या में महिला और पुरुषों ने हर-हर गंगे के जयकारों के साथ डुबकी लगाई। शहर के मनिहारा तालाब पर भी सुबह से लेकर शाम तक श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। यहां पर महिला, पुरुषों बच्चों ने तालाब में स्नान किया।

महिलाओं ने मनिहारा महादेव मंदिर में भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक कर पूजन किया। मनिहारा वाटिका में बच्चों ने झूले-चकरी फिसलपट्टी का आनंद लिया। यहां मेले जैसा माहौल रहा। स्नान पूजन के बाद श्रद्धालुओं ने पिकनिक का भी आनंद लिया। वहीं जिले के रामगढ़, नाहरगढ़ के कपिलधारा, अंता की सोरसन माताजी, केलवाड़ा के समीप सीताबाड़ी के प्रसिद्ध पवित्र कुंडों में भी कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान करने के लिए दूरदराज समीपवर्ती मप्र के कस्बे गांवों से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु यहां पहुंचे। स्नान कर देव पूजन कर पिकनिक मनाई।

भजन-कीर्तनहुए

जिलेमें गुरुवार को धार्मिक स्थलों पर हुए कार्यक्रमों से माहौल धर्ममय हो गया। रामगढ़ में बुधवार रात को हुए जागरण कार्यक्रम में जिले के विभिन्न स्थानों से पहुंची भजन मंडलियों ने भगवती जागरण कर भजन-कीर्तन प्रस्तुत किए। तड़के तक चले कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। देर रात तक भक्तिरस की गंगा बहती रही। श्रद्धालु इसमें लीन होकर गोते लगाते रहे।

सीताबाड़ीमें लगा मेला

केलवाड़ा.कार्तिकमास में स्नान करने वाली बालिकाओं ने कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर सीताबाड़ी स्थित कुंडों में दीपदान करते हुए पवित्र स्नान कर पुण्य लाभ कमाया। हाड़ौती की विख्यात तीर्थ स्थली सीताबाड़ी में कार्तिक पूर्णिमा पर हजारों की तादाद में श्रद्धालुओं ने कुंडों में स्नान किया। हाड़ौती भर से यहां बुधवार रात से ही श्रद्धालु पहुंचना शुरू हो गए थे। गुरुवार को तड़के चार बजे से ही लक्ष्मण कुंड, सूर्य लवकुश कुंड, राधाकृष्ण, लक्ष्मीनारायण मंदिर, राठौर समाज की ओर से बनाए गए नए कुंडों में स्नान के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ रही। मंदिरों में भीड़ के चलते यहां पर पुलिस के माकूल बंदोबस्त थाना प्रभारी भगवानसिंह जादौन ने किए।

भजनसंध्या में बही भक्तिरस की धारा

कार्तिकपूर्णिमा की पूर्व संध्या पर सीताबाड़ी स्थित लक्ष्मण मंदिर में सीताबाड़ी संगीत साधना परिवार की ओर से भजन संध्या प्रस्तुत की गई।