पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वो एकलिंग दीवान कठे...

5 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ब्यावर| विश्वकर्मामंदिर जीर्णोद्वार और प्रतिमा स्थापना समारोह के उपलक्ष में पीआरजे लिटिल प्लानेट और पीआरजे ज्ञानजया स्कूल की ओर से भजन संध्या का आयोजन हुआ। संयोजक रमेश खैराती ने बताया कि भजन-संध्या का शुभारंभ भजन सम्राट मोइनुद्दीन मनचला ने गणेश वंदना के साथ की। उन्होंने गुरु वंदना, भैरू थारो नाम, बाबा रामदेव पूजा और अखण्ड शिव वन्दना जैसे कई गीतों के साथ सम्पूर्ण परिसर को भक्ति रस से आेत-प्रोत कर दिया। इस मौके पर डॉ. तरुणसागर, महंत नरेशपुरी, अभयदास महाराज, कैलाश महाराज अन्य संतों का स्वागत किया गया। गायक मशरूम मनचला गायिका सोनू कंवर ने प्रस्तुति दी। मुख्य अतिथि विधायक शंकरसिंह रावत थे। अध्यक्षता जिला प्रमुख वंदना नोगिया ने की। उपाध्यक्ष पीआरजे ज्ञानजया स्कूल चेयरपर्सन राखी जांगिड़़ का भी अभिनन्दन किया गया। इसके बाद गायक जॉन अजमेरी ने गुरू बिन कुछ नही, रास-लीला को, एवं सांई वंदना की प्रस्तुति से भावविभोर किया। कार्यक्रम में सभापति बबीता चौहान, भाजपा मण्डल अध्यक्ष जयकिशन बल्दुआ, रेल डाक सेवा अधीक्षक आत्माराम बरड़वा, अध्यक्ष महिला शाखा सभा रीटा कंवलेचा, आत्माराम ढिवाण, मुकेश जाँगिड़ सहित अन्य उपस्थित थे। संचालन नटवर पाराशर ने किया। अंत में जांगिड़ समाज के सभापति बाबूलाल भावरेल और अध्यक्ष धर्मराज छडिय़ा ने आभार जताया।श्रीकिशन जांगिड़ ने बताया कि सोमवार सुबह श्री विश्वकर्मा भगवान, शिव दरबार, राधा-कृष्ण, हनुमान, अंगिरा ऋषि समेत अन्य भगवान की प्रतिमाएं स्थापित की गई।

खबरें और भी हैं...