पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने बीएलओ को लगाई फटकार

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने बीएलओ को लगाई फटकार

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नगरीय निकाय क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू

जिलामजिस्ट्रेट डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने जालोर भीनमाल निकाय क्षेत्रों में आम चुनावो को स्वतन्त्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्वक व्यवस्थित रूप से करवाने के लिए निकाय क्षेत्र में 6 नवंबर से निषेधाज्ञा जारी की, जो कि 30 नवंबर तक प्रभावी रहेगी। जिला मजिस्ट्रेट डॉ.जितेन्द्र कुमार सोनी ने बताया कि जालोर नगर परिषद एवं भीनमाल नगर पालिका सीमा क्षेत्र के मतदाता बिना किसी आंतक एवं भय के अपने वोट का उपयोग कर सके इसके लिए असामाजिक, अंवाछित एवं समाज विरोधी तत्वों की गैर कानूनी गतिविधियों को नियंत्रित करने तथा कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा जारी की है।

इनपर रहेगा प्रतिबंध : धारा144 के तहत कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार के विस्फोटक पदार्थ, आग्नेय शस्त्र जैसे रिवॉल्वर, पिस्टल, राईफल, बंदूक, (एमएलगन एवं बीएलगन) अन्य हथियार जैसे गंडासा, फर्सी, तलवार, भाला, कृपाण, चाकू, छुरी, बर्छी, गुप्ती, कटार, धारिया, बाघनख (शेर पंजा) जो किसी धातु के शस्त्र के रूप में बना हो और कानूनन प्रतिबंधित हथियार और मोटे घातक हथियार लाठी साथ में लेकर सार्वजनिक स्थानो पर नहीं घूम सकेंगे और ही सार्वजनिक स्थान पर उनका प्रदर्शन कर सकेंगे।

ये रहेंगे प्रतिबंध से मुक्त

सुरक्षाकी दृष्टि से राजकीय ड्यूटी पर सैनिक बलों, राजस्थान सशस्त्र पुलिस एवं राजस्थान पुलिस के कर्मचारियों तथा केन्द्रीय राज्य सरकार के उन कर्मचारियों पर जो डयूटी के तहत हथियार रखने के लिए अधिकृत है उन पर लागू नहीं होगा। इसके अलावा अपाहिज तथा अति वृद्घ व्यक्तियों को लाठी रखने की छूट होगी। सिख समुदाय के लोगों को धार्मिक परंपरा अनुसार कृपाण धारण करने की छूट होगी। इसी प्रकार जिला पुलिस अधीक्षक जालोर या सक्षम प्राधिकारी की पूर्वानुमति के बिना कोई भी व्यक्ति किसी भी सार्वजनिक स्थल पर किसी भी प्रयोजन के लिए जुलूस, रैली तथा सभा धरना का आयोजन नही करेगा जालोर भीनमाल क्षेत्र के उपखंड मजिस्ट्रेट की पूर्वानुमति के बिना ध्वनि विस्तारण यत्रं का प्रयोग भी नहीं कर सकेंगे। विशेष परिस्थतियों में ध्वनि विस्तारण यंत्र के उपयोग अनुमति संबंधित उपखंड मजिस्ट्रेट की ओर से सुबह 6.00 से रात्रि 10.00 बजे तक दी जा सकेगी। मगर इसके लिए यातायात व्यवस्था, लोक सुविधा एवं लोक शांति प्रभावित नहीं हो ध्