• Hindi News
  • Rajasthan
  • Bhinmal
  • बरसात होते ही रानीवाड़ा में नकली खाद्य बीज एवं दवाई बेचने वाले हो गए सक्रिय
--Advertisement--

बरसात होते ही रानीवाड़ा में नकली खाद्य बीज एवं दवाई बेचने वाले हो गए सक्रिय

बरसातके समय में खाद-बीज और दवाई खरीदने आने वाले किसानों की भीड़ खाद-बीज की दुकानों पर उमड़ रही है। खाद-बीज की...

Dainik Bhaskar

Jun 04, 2017, 01:35 PM IST
बरसात होते ही रानीवाड़ा में नकली खाद्य बीज एवं दवाई बेचने वाले हो गए सक्रिय
बरसातके समय में खाद-बीज और दवाई खरीदने आने वाले किसानों की भीड़ खाद-बीज की दुकानों पर उमड़ रही है। खाद-बीज की दुकानों पर से किसान ट्रैक्टर, गाडियां, जीपों में खाद-बीज लेकर जाते नजर रहे हैं। मानसून की पहली बरसात होते ही किसान अपने खेतों पर तरह-तरह के संसाधनों से बुवाई करते देखे जा रहे हैं। इन दिनों उपखण्ड मुख्यालय पर रानीवाड़ा, मालवाड़ा, दहीपुर, धानोल, जाखडी, बडग़ांव, रतनपुर, कागमाला, कोडी, आलडी भीनमाल सहित कई गावों में गुजरात क्षेत्र प्रसिद्ध ब्रांडों के नाम पर उनसे मिलते जुलते नकली खाद बीज एवं दवाई के पैकेट बिकने शुरू हो गए हैं, जिनके मनमाने रुपए वसूले जा रहे हैं। जहां डीएपी खाद के स्थान पर सिंगल सुपर को यूरिया के दामों पर बेचा जा रहा है। इससे क्षेत्र के किसानों को लाभ होना तो दूर, उल्टा फसल के प्रभावित होने का खतरा बन गया है। बीज खरीदने पर दुकानदार किसानों को बिल भी नहीं देते हैं। जिससे किसान खेतों में बुआई करने के बाद फसल का ठीक प्रकार उत्पादन नहीं होने पर दुकानदार को उलाहना भी नहीं दे सकते। उपखण्ड मुख्यालय सहित कई गांवों का मुख्य केन्द्र रानीवाड़ा भीनमाल है। वहीं आस-पास के गांवों के सैंकड़ों किसान भी बुवाई के समय खाद-बीज दवाई खरीदने आते हैं तो इन्हें असली बीज की आड़ में खुले रूप से अधिक गुणवत्ता वाला बताकर नकली बेचा जा रहा है। अधिकतर दुकानदारों के पास तो असली खाद-बीज बेचने के अधिकृत लाइसेंस तक नहीं है। कस्बे में लाइसेंस प्राप्त दुकानदारों पर भी परिष्कृत उन्नत बीज की किस्मों के नामों दामों पर साधारण फसलों का बीज किसानों को बेचा जा रहा है।

प्रशासनकी नहीं हो रही कार्यवाही

कस्बेमें ऐसी कई खाद-बीज की दुकानों में लाइसेंस प्राप्त दुकानदारों पर भी परिष्कृत उन्नत बीज की किस्मों के नामों दामों पर साधारण फसलों का बीज भी किसानों को बेचा जा रहा है, जबकि विभाग की ओर से कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। असली खाद-बीज के बदले धड़ल्ले से दुकानदारों की ओर से नकली खाद-बीज बेचे जा रहे हैं।

धड़ल्ले से बिक रहे नकली खाद-बीज

बरसातआने के मौसम में किसान अपनी नई उम्मीद के साथ अपने खेत में चाहे दिन हो या रात हो बुवाई में पूरी लगा देता है किसान की कमाई लेकिन खाद-बीज की ऐसी कई कंपनियां है जो किसानों से खरीदा हुआ अनाज को दुबारा पैकिंग कर दुगने तिगुने दाम पर वहीं बीज को किसानों की आंखों में धूल झोंक कर अच्छी किस्म के बीजों के नाम पर बेचते हैं। खाद यूरिया डीओपी दवाई को मिलावटी कर बेच रहे हैं। किसान दुकानदारों की बात पर भरोसा कर असली नकली बीजों की पहचान नहीं कर पाते हैं।

X
बरसात होते ही रानीवाड़ा में नकली खाद्य बीज एवं दवाई बेचने वाले हो गए सक्रिय
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..