पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

फिल्म/टीवी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अमूल्यसांस्कृतिक धरोहर बिजौलिया के मंदाकिनी मंदिर

पर्यटनकी दृष्टि से बिजौलिया के मंदाकिनी मंदिरों की शृंखला का अपना अलग ही महत्व रहा है। राष्ट्रीय राजमार्ग 27 पर स्थित यह मंदिर कला के बेजोड़ नमूने हैं। जिला मुख्यालय से इसकी दूरी 90 किलोमीटर है। ऐतिहासिक एवं स्थापत्य कला एवं धर्म का अनूठा संगम यहां आने वाले पर्यटक को अनायास ही आकर्षित करता है। 12 वीं शताब्दी के निर्मित तीन शिव मंदिर स्थित है - महाकाल, हजारेश्वर तथा उंडेश्वर। हजारेश्वर शिवलिंग पर सैकड़ों की संख्या में शिवलिंग उकेरे हुए हैं। इसके अलावा यहां की एक और खास बात है कि पूरे विश्व में नारी रूप में गणेशजी की मूर्ति केवल मंदाकिनी मंदिर में ही स्थित है। मंदिर परिसर में लाल पत्थरों से निर्मित प्राचीन कुंड में निर्मल जल बारह महीनों भरा रहता है। बिजौलियां बाजार बस स्टैंड पर खाने पीने की हर चीज उपलब्ध हो जाती है।

फीडबैक प्लीज़

अपने सुझाव, खबर या कार्यक्रम के लिए मेल करें -

dainikbhaskarbhilwara@gmail.com पर। या फोन करें - 01482-308700 पर। अपनी प्रतिक्रियाएं आप हमें 7737735319 पर एसएमएस भी कर सकते हैं।

on TelEvision

in theater

खबरें और भी हैं...