पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • एसई मीणा जोनल चीफ बनकर चला रहे थे कार

एसई मीणा जोनल चीफ बनकर चला रहे थे कार

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
विद्युतवितरण विभाग के अधीक्षण अभियंता पिछले एक माह से बूंदी में संभागीय मुख्य अभियंता की नेम प्लेट लगाकर कार चला रहे थे। बुधवार को कोटा बैराज पर हुई कार-बाइक भिड़ंत के दौरान भी वो कार में बेठे थे। टक्कर के बाद वो कार को वहां पर छोड़कर फरार हो गए, मानवीय संवेदनाओं के नाते उन्होंने टक्कर में घायल युवक को अस्पताल भी नहीं पहुंचाया। गुरुवार को मामला उजागर होने के बाद अब संभागीय मुख्य अभियंता उनके खिलाफ विभागीय जांच बैठाने के आदेश जारी करेंगे।

कोटा बैराज पर बुधवार रात को संभागीय मुख्य अभियंता की नेम प्लेट लगी हुई कार ने एक बाइक सवार युवक को टक्कर मारी थी। जिसमें बूंदी के अधीक्षण अभियंता क्षेमराज मीणा बैठे थे। मीणा कार युवक को मौके पर छोड़कर फरार हो गए। जिससे कोटा बैराज पर 15 मिनट तक जाम लगा रहा और कुन्हाड़ी पुलिस ने कार बाइक जब्त कर ली। इधर, कुन्हाड़ी सीआई राजेश सोनी का कहना है कि थाने पर किसी ने कोई शिकायत नहीं दी और ही कोई इन्हें लेने आया। हमने कार मालिक की नेम प्लेट देखकर फोन किया था।

यहहै कार की कहानी

अधीक्षणअभियंता क्षेमराज मीणा की कोटा पोस्टिंग के दौरान अक्टूबर माह में संभागीय मुख्य अभियंता का चार्ज मिला। इस दौरान यह कार उनके पास थी। इसके बाद उनका बूंदी ट्रांसफर हो गया, लेकिन उन्होंने कार पर से नेम प्लेट नहीं बदली। इस दौरान कोटा में संभागीय मुख्य अभियंता के पद पर नवीन अरोड़ा गए और उन्हें इस कार के बारे में पता ही नहीं है।

कवरचढ़ा दिया था, हट गया होगा

^हां,मैं कार में केशवरायपाटन से रहा था। कार से बाइक तो खुद आकर टकराई थी। मैंने संभागीय मुख्य अभियंता की नेम प्लेट पर कवर चढ़ा रखा था, वो हट गया होगा। जिसका ठेका होगा वो कार को छुड़ा लेगा, इसमें मैं क्या करुं। -क्षेमराज मीणा, अधीक्षणअभियंता, बूंदी

जांचकरवाएंगे

^मैंतो बुधवार को जयपुर था और मुझे पुलिस से इस हादसे के बारे में पता चला है। पिछले एक माह से क्षेमराज मीणा बूंदी में मेरी नेम प्लेट लगाकर कार चला रहे है। जो की सीधे-सीधे पद का दुरुपयोग हैं। मैं कल ही मीणा के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश करुंगा।

-नवीन अरोड़ा, संभागीयमुख्य अभियंता, कोटा