• Hindi News
  • National
  • शहर के बाहर सीवरेज बिछाने का काम जल्द होगा पूरा

शहर के बाहर सीवरेज बिछाने का काम जल्द होगा पूरा

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहरके बाहरी भाग में सीवरेज लाइन बिछाने का काम करीब-करीब पूरा होने को है। कई जगहों पर एक साथ काम चलने से सीवरेज लाइन का लाभ जल्द शहरवािसयों को मिलेगा।

सीवरेज लाइन डालने का काम अक्टूबर 2015 में शुरू हुआ था। फिलहाल लाइन बिछाने का काम अभी शहर के मध्य में पहुंच गया है। घरों के गंदे पानी को ट्रेप करने के लिए आरयूआईडीपी को शहर में करीब 13 किलोमीटर लंबी सीवरेज लाइन डालनी है। इस पर करीब 30 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। आरयूआईडीपी के अभियंताओं का कहना है कि शहर के बाहरी क्षेत्र में करीब 300 मीटर लाइन बिछाने का काम और बाकी है। एक पखवाड़े में बाहरी क्षेत्र का काम निपट जाएगा। वहीं सीनियर सैकंडरी स्कूल अस्पताल के पास 500 एमएम की लाइन डाली जा रही है।

चलरहा है ट्रीटमेंट प्लांट का काम भी: रामगंजबालाजीके समीप सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम भी चल रहा है। करीब 19 बीघा भूमि पर इस प्लांट को बनाया जा रहा है। जगह को देखते हुए इसे पूरी तरह से आधुनिक बनाया जाना है। यहां सॉलिड लिक्विड वेस्ट का अलग-अलग ट्रीटमेंट होगा। शहर के अलग-अलग हिस्सों बिछाई जा रही है लाइनों में होता हुआ वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट में पहुंचेगा।

लाइनमें ट्रेप होगा घरों का गंदा पानी: सीवरेजलाइन में घरों का गंदा पानी ट्रेप होगा। घरों के बाहर तक लाइन डाली जाएगी। इसके बाद संबंधित उपभोक्ता द्वारा चैंबर बनाया जाएगा। घरों का पानी इस चैंबर से होता हुआ लाइन में पहुंचेगा। ऐसे में नालियों में गंदा पानी नहीं बहेगा। इससे शहर भी साफ सुथरा रहेगा।

शहरके मध्य में डाली जा रही है लाइन

^शहरके बाहरी भाग में तो सीवरेज लाइन बिछाने का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा। सीनियर सैकंडरी स्कूल अस्पताल के समीप लाइन डाली जा रही है। जितेंद्रकुमारमीणा, जेईएन आरयूआईडीपी बूंदी

भास्कर न्यूज| बूंदी

शहरके बाहरी भाग में सीवरेज लाइन बिछाने का काम करीब-करीब पूरा होने को है। कई जगहों पर एक साथ काम चलने से सीवरेज लाइन का लाभ जल्द शहरवािसयों को मिलेगा।

सीवरेज लाइन डालने का काम अक्टूबर 2015 में शुरू हुआ था। फिलहाल लाइन बिछाने का काम अभी शहर के मध्य में पहुंच गया है। घरों के गंदे पानी को ट्रेप करने के लिए आरयूआईडीपी को शहर में करीब 13 किलोमीटर लंबी सीवरेज लाइन डालनी है। इस पर करीब 30 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। आरयूआईडीपी के अभियंताओं का कहना है कि शहर के बाहरी क्षेत्र में करीब 300 मीटर लाइन बिछाने का काम और बाकी है। एक पखवाड़े में बाहरी क्षेत्र का काम निपट जाएगा। वहीं सीनियर सैकंडरी स्कूल अस्पताल के पास 500 एमएम की लाइन डाली जा रही है।

चलरहा है ट्रीटमेंट प्लांट का काम भी: रामगंजबालाजीके समीप सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम भी चल रहा है। करीब 19 बीघा भूमि पर इस प्लांट को बनाया जा रहा है। जगह को देखते हुए इसे पूरी तरह से आधुनिक बनाया जाना है। यहां सॉलिड लिक्विड वेस्ट का अलग-अलग ट्रीटमेंट होगा। शहर के अलग-अलग हिस्सों बिछाई जा रही है लाइनों में होता हुआ वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट में पहुंचेगा।

लाइनमें ट्रेप होगा घरों का गंदा पानी: सीवरेजलाइन में घरों का गंदा पानी ट्रेप होगा। घरों के बाहर तक लाइन डाली जाएगी। इसके बाद संबंधित उपभोक्ता द्वारा चैंबर बनाया जाएगा। घरों का पानी इस चैंबर से होता हुआ लाइन में पहुंचेगा। ऐसे में नालियों में गंदा पानी नहीं बहेगा। इससे शहर भी साफ सुथरा रहेगा।

शहरके मध्य में डाली जा रही है लाइन

^शहरके बाहरी भाग में तो सीवरेज लाइन बिछाने का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा। सीनियर सैकंडरी स्कूल अस्पताल के समीप लाइन डाली जा रही है। जितेंद्रकुमारमीणा, जेईएन आरयूआईडीपी बूंदी

बूंदी। आरयूआईडीपी द्वारा डाली जा रही सीवरेज लाइन।

खबरें और भी हैं...