पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • हम जैसा बोल रहे हैं, क्या वैसा करेंगे भी

हम जैसा बोल रहे हैं, क्या वैसा करेंगे भी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चित्तौड़गढ़ | भाजपाजिला संगठन प्रभारी दामोदर अग्रवाल ने नगरपरिषद में बोर्ड बनने के दावों पर कार्यकर्ताओं को नसीहत देते हुए कुछ प्रश्न भी उठाए। अग्रवाल ने कहा कि हम जैसा बोल रहे हैं और चाह रहे हैं, क्या वैसा ही कार्य करेंगे भी। मेरे मन में एक ऐसा ही प्रश्न है। टिकट मांगने का हक सभी को है, लेकिन राजनीतिक मजबूरी है कि टिकट एक को ही मिलेगा। उन्होंने रायशुमारी में समर्थकों या ग्रुप के साथ किसी दावेदार से नहीं मिलने की बात कहते हुए कहा कि पार्टी के प्रति शुद्वता और संकल्प होना चाहिए। कार्यकर्ता और नेता अपना मन साफ रखेंगे। बाद में मेरा क्या होगा। यह सवाल नहीं होना चाहिए।

टिकटनिष्पक्ष देंगे तो बनेगा बोर्ड: पूर्वचेयरमैन महेश ईनाणी ने कहा कि अग्रिम पंक्ति में बैठे नेताओं से प्रार्थना है कि निष्पक्ष होकर टिकट दे। जीतने की स्थिति दिखे तो गरीब को भी टिकट दे। बोर्ड बनाना बडी बात नहीं है। जनता भी चाहती है कि भाजपा का ही बोर्ड बने।

अरे भाई कलंक मत लगा देना

मंत्रीरिणवा ने अपने संबोधन के अंत में कार्यकर्ताओं से कहा कि ऐसे प्रयास हो कि हम 30 प्रतिशत टिकट निर्विरोध चयन कर लें। सीएम ने पहली बार मुझे मंत्री बनने के बाद यहां का चुनाव में प्रभारी बनाया है। इसलिए हार का कलंक मत लगा देना।